बांसवाड़ा: हाथी की मौत पर फूट-फूटकर रोए ग्रामीण, निकाली शव यात्रा

बांसवाड़ा जिले के सल्लोपाट कस्बे में एक अनोखा नजारा देखने को मिला. यहां पर जहरीली घास खाने से एक हाथी की मौत हो गई. इसके बाद ग्रामीणों ने जो किया, वो हर कोई देखता रह गया. 

बांसवाड़ा: हाथी की मौत पर फूट-फूटकर रोए ग्रामीण, निकाली शव यात्रा
बड़े ही गमगीन माहौल के साथ हाथी की शव यात्रा निकाली गई.

बांसवाड़ा: जहरीली घास (Poisonous Grass) खाने से बांसवाड़ा (Banswara) में एक गजराज (हाथी) की मौत हो गई. इससे पूरा शहर गम में डूब गया. शहर भर के व्यापारियों ने दुकानें बंद कर दीं. बड़े ही गमगीन माहौल के साथ उसकी शव यात्रा निकाली गई.

बांसवाड़ा जिले के सल्लोपाट कस्बे में एक अनोखा नजारा देखने को मिला. यहां पर जहरीली घास खाने से एक हाथी की मौत हो गई. इसके बाद ग्रामीणों ने जो किया, वो हर कोई देखता रह गया. कस्बे के सभी समाज के लोगों ने 3 घंटे अपने बाजार को बंद रखा ओर हाथी की शव यात्रा पूरे कस्बे में घुमाई.

राम धुन के साथ कस्बे के सभी लोग शव यात्रा के साथ चलते नजर आए, जिसमें क्या बच्चा, क्या बूढ़ा और महिलाएं भी शामिल रहीं. बाद में हाथी को शिव मंदिर के पास नदी किनारे समाधि बनाई गई. इस दौरान गांव के सैकड़ों लोग मौजूद रहे. यह पहला नजारा रहा कि हाथी की शव यात्रा निकाली गई है.