close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

OMG! जब इंसान के सिर पर निकल आया 'सींग', मामला देख डॉक्टर भी रह गए हैरान

 मामला मध्य प्रदेश के सागर जिले का है, जहां एक इंसान के सिर पर बीचो-बीच 4 इंच से बड़ा सींग निकल आया था. सींग बिल्कुल असली और ठोस था.

OMG! जब इंसान के सिर पर निकल आया 'सींग', मामला देख डॉक्टर भी रह गए हैरान
सागर के रहली के पटना की घटना.

(अतुल अग्रवाल)/सागरः अभी तक आपने इंग्लिश फिल्म हेलबॉय में देखा होगा कि, किसी इंसान के सिर पर सींग हैं, मगर असल जिंदगी में भी एक इंसान ऐसा है जिसके सिर के बीचोंबीच एक सींग निकल आया है. मामला मध्य प्रदेश के सागर जिले का है, जहां एक इंसान के सिर पर बीचो-बीच 4 इंच से बड़ा सींग निकल आया था. सींग बिल्कुल असली और ठोस था. मेडिकल साइंस में यह अभी तक का दुर्लभ मामला है. सींग निकलने के बाद बुजुर्ग व्यक्ति भी हैरान रह गया और अपनी परेशानी लेकर डॉक्टर से मिला, जिसके बाद मामला देखकर खुद डॉक्टर भी हैरान रह गए. हालांकि, एक निजी अस्पताल में ऑपरेशन के बाद युवक को इस सींग से मुक्ति मिल गई है.

घटना सागर के रहली के पटना की है, यहां के रहने वाले श्यामलाल यादव बीते 5 साल से सिर पर सींग लेकर घूम रहे थे. वैसे तो उन्हें सींग से कोई खास परेशानी नहीं थी, लेकिन असहज जरूर लगता था. करीब 5 साल पहले श्यामलाल के सिर में जोरदार चोट लग गई थी, उसके कुछ दिनों बाद सीग निकलने लगी थी. कई डॉक्टरों को दिखाया, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ तो श्यामलाल ने स्थानीय बाल काटने वाले नाई से कई दफा सींग को उगने के साथ ही ब्लैड से कटवा दिया, लेकिन सींग बार-बार फिर निकल आई.

देखें लाइव टीवी

राहत न मिलने पर सींग को लेकर वह मेडिकल कॉलेज, भोपाल, नागपुर तक गए और वापस आ गए. उन्हें भरोसे का डॉक्टर नहीं मिल सका, न वह डॉक्टरों की बातों पर भरोसा कर सके. वापस आकर सागर के भाग्योदय तीर्थ अस्पताल में डॉ. विशाल गजभिये से मिलकर समस्या बताई. जहां पिछले दिनों ऑपरेशन कर उन्हें सींग से मुक्ति दिलाई गई.

Horn that came out of a Human Head in Sagar, Case will be include in the books of MBBS

OMG: अजब हैं यहां के पेट्रोल पंप मालिक, ज्यादा पैसों से हो रहे हैं परेशान

श्यामलाल यादव की सर्जरी करने वाले सीनियर सर्जन डॉ. विशाल गजभिये ने बताया कि सींग की लंबाई करीब 4 इंच थी, मोटाई भी पर्याप्त थी. सीटी स्कैन में यह देखा गया कि सींग सिर में कितने अंदर तक था. जब कंफर्म हो गया कि न्यूरो सर्जन की आवश्यकता नहीं पड़ेगी, तो ऑपरेशन किया गया. सींग को काटने के बाद खाली जगह को बंद करने के लिए माथे के ऊपरी हिस्से की चमड़ी निकालकर प्लास्टिक सर्जरी की गई है, ये दुर्लभ मामला अध्ययन का विषय है. इसलिए इस केस को इंटरनेशनल जर्नल में प्रकाशन के लिए भेज रहा हूं. मेडिकल साइंस के कोर्स में शामिल करने के लिए भी भेज रहे हैं.