close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

DNA टेस्ट होते ही रातों-रात बन गया 450 करोड़ के एस्टेट का मालिक

जॉर्डन अब पेनरोस एस्टेट के मालिक बन चुके हैं जिसकी कीमत करीब 50 मिलियन पाउंड (450 करोड़ के आसपास) है.

DNA टेस्ट होते ही रातों-रात बन गया 450 करोड़ के एस्टेट का मालिक
(फोटो साभार इंडिपेंडेंट)

नई दिल्ली: इंग्लैंड के रहने वाले जॉर्डन एडलार्ड रोजर (उम्र 31 वर्ष) जो अब तक साधारण जिंदगी जी रहा था और अचानक से  उसे पता चलता है कि उसका बॉयोलॉजिकल फादर एक अमीर शख्स है जो 1536 एकड़ के एस्टेट में रहता है. पढ़ने में यह किसी फिल्मी स्क्रिप्ट जैसा लगता है, लेकिन यह एक सच्ची घटना है. कल तक जिसके पास कुछ नहीं था आज वह करोड़ों की संपत्ति का मालिक बन गया. BBC की रिपोर्ट के मुताबिक, पेनरोस एस्टेट की कीमत करीब 50 मिलियन पाउंड है.

Jordan Adlard Rogers became owner of Penrose Estate worth 450 crore after DNA test
(फोटो साभार इंडिपेंडेंट)

जॉर्डन रोजर ने कहा कि उसे बचपन से इस बात का शक था चार्ल्स रोजर जो पेनरोस एस्टेट के मालिक हैं वह उसके पिता हैं. उसने 8 साल की उम्र में ही चार्ल्स रोजर से DNA टेस्ट कराने की मांग की थी. लेकिन, उन्होंने मना कर दिया. जॉर्डन जब 18 साल के हो गए तब उन्होंने फिर से DNA टेस्ट की मांग की तो चार्ल्स ने कहा कि वे अपनी बात वकील के जरिए रखें, लेकिन दूसरी जिम्मेदारियों की वजह वे ऐसा नहीं कर पाए. इसके बावजूद वे लगातार अपने पिता को चिट्ठी लिखते रहे और DNA टेस्ट की मांग करते रहे.

Jordan Adlard Rogers became owner of Penrose Estate worth 450 crore after DNA test
(फोटो साभार इंडिपेंडेंट)

3 साल पहले जॉर्डन ने DNA किट के साथ आखिरी बार चार्ल्स को चिट्ठी लिखी. टेस्ट भी हुआ. लेकिन, उनकी मौत हो गई. आखिरकार पावर ऑफ अटार्नी फिलिप का फोन आया. जॉर्डन रोजर ने कहा कि उन्हें कुछ समस्याएं जरूर हुईं, लेकिन इस बात की पुष्टि हो गई कि चार्ल्स ही उनके बॉयोलॉजिकल फादर थे.

Jordan Adlard Rogers became owner of Penrose Estate worth 450 crore after DNA test
(फोटो साभार इंडिपेंडेंट)

जॉर्डन ने कहा कि अब उन्हें कमाने की जरूरत नहीं है. परिवार की बहुत बड़ी विरासत बहुत बड़ी जिम्मेदारी के साथ मिली है. उन्होंने कहा कि मैं अब चैरिटी का काम करूंगा. मैंने जिंदगी में बहुत कुछ देखा है, इसलिए मैं लोगों की मदद करना चाहता हूं. मैं यह कभी नहीं भूलूंगा कि मैं कहा से आया हूं.