close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

OMG...काशीपुर की बाइक नोएडा में बनी स्कूटी, चालान देखकर बाइक मालिक के उड़े होश

Kashipur: हरदेव सिंह के पास आया चालान इस बात को दर्शाता है कि नोएडा में हरदेव सिंह की बाइक के नंबर की स्कूटी का मिलना चोरी की हो सकती है, जिसमें हूबहू हरदेव सिंह के बाइक की नंबर प्लेट लगा दी गई.

OMG...काशीपुर की बाइक नोएडा में बनी स्कूटी, चालान देखकर बाइक मालिक के उड़े होश
काशीपुर की लोकल पुलिस ने हरदेव सिंह के पास आए चालान को वापस नोएडा भेज दिया है.

काशीपुर: नए ट्रैफिक नियम (New Traffic Rule) लागू होने के बादा देशभर में तरह-तरह के केस सामने आ रहे हैं. ताजा मामला उत्तराखंड (Uttarakhand) के काशीपुर (Kashipur) से है, जहां काशीपुर में खड़ी बाइक नोएडा में पहुंचते ही स्कूटी बन गई और चालान कटकर सीधा काशीपुर पहुंचा गया, चालान के पहुंचते बाइक मालिक हैरान रह गया. 

दरअसल, अजीतपुर गांव के पास दभौरा मुस्तकम रहने वाले हरदेव सिंह के पास होंडा की बाइक है और उसका नंबर यूके 18ई 6061 है.  हरदेव सिंह के पास नोएडा से चालान आया है. चालान के मुताबिक,  28 सितम्बर की सुबह 9:35 मिनट 49 सेकंड पर यूके18ई 6061 नम्बर की स्कूटी गौतमबुद्ध नगर यानी नोएडा से गुजरी और स्कूटी चालक के पास न तो लाइसेंस था और न ही उसने हेलमेट पहना हुआ था. 

इसलिए स्कूटी का ऑनलाइन चालान रुपये 600 शुल्क जमा करना होगा. अब हरदेव सिंह को यह समझ में नहीं आया कि उसकी बाइक कब नोएडा गई, और कब स्कूटी बन गई?

लाइव टीवी देखें

मामले के सामने आने के बाद वाहन स्वामी हरदेव के तब पैरों तले जमीन खिसक गई. हरदेव सिंह के पास आया चालान इस बात को दर्शाता है कि नोएडा में हरदेव सिंह की बाइक के नंबर की स्कूटी का मिलना प्रथम दृष्टया स्कूटी चोरी की हो सकती है, जिसमें हूबहू हरदेव सिंह के बाइक की नंबर प्लेट लगा दी गई. जब ऑनलाइन चालान हुआ तो वह नम्बर काशीपुर का निकला और पुलिस ने चालान हरदेव सिंह के घर भेज दिया गया.  

हालांकि अब पुलिस को हकीकत पता चल गई है काशीपुर की लोकल पुलिस ने हरदेव सिंह के पास आए चालान को वापस नोएडा भेज दिया है.