close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मासूम के जन्म के बाद 3 लोगों ने किया दावा, बोले 'मैं ही इस बच्ची का पापा हूं', पढ़े फिर क्या-क्या हुआ...

बच्ची का पिता होने के तीन दावेदारों से जब मामला गंभीर हो गया तो इसकी पड़ताल पुलिस ने शुरू की. पुलिस ने बच्ची की मां से पूछताछ की, तो उसने स्वीकारा कि उसकी शादी हर्ष के साथ हुई थी. हर्ष द्वारा दिखाए गए मैरिज सर्टिफिकेट के आधार पर पुलिस ने हर्ष को उसकी बच्ची से मिलवाया. पढ़ें क्या-क्या हुआ...

मासूम के जन्म के बाद 3 लोगों ने किया दावा, बोले 'मैं ही इस बच्ची का पापा हूं', पढ़े फिर क्या-क्या हुआ...
मामला बढ़ता देख अस्पताल प्रशासन ने पुलिस को सूचना दी.

कोलकाता: कोलकाता में एक प्राइवेट अस्पताल से हैरान करने वाली घटना सामने आई है. अस्पताल में एक बच्ची का जन्म हुआ और उसका पिता होने के तीन दावेदार आ आए. तीनों बच्ची के पिता होने का दावा करने लगे. घटना गांगुली बागान के एक प्राइवेट अस्पताल की है. पहले अस्पताल प्रशासन ने खुद मामले को सुलझाना चाहा, लेकिन जब मामला और ज्यादा उलझता गया तो अस्पताल प्रशासन ने पुलिस को बुलाया, जिसके बाद ये सारा मामला सामने आया. 

दरअसल, कोलकाता के उत्तर पाड़ा की रहने वाली एक महिला (मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए नाम गुप्त रखा गया है) को शनिवार (20 जुलाई) की शाम को अस्पताल में भर्ती कराया गया. उसको दीपांकर पाल नामक युवक ने अस्पताल में भर्ती कराया था, जिसने महिला का पति होने का दावा किया था. रविवार (21 जुलाई) को लेबर पेन के बाद डॉक्टर ने ऑपरेशन किया और महिला ने एक बेटी को जन्म दिया.  

रविवार को न्यू टाउन में रहने वाला हर्ष खेत्री नाम का एक व्यक्ति अस्पताल पहुंचा और उसने दावा किया वही महिला का असली पति है. हर्ष अपने साथ मैरिज सर्टिफिकेट भी लिए था. अब उसकी मांग थी कि अस्पताल अपने कागजों में गलत जानकारी को सही करे. 

अस्पताल के एक कर्मचारी के बताया कि मामला सामने आने के बाद उन्होंने दोनों में से किसी को भी जच्चा-बच्चा के पास जाने की इजाजत नहीं दी. वहीं, मामला बढ़ता देख इसकी सूचना पुलिस को दी गई. नेताजीनगर थाने की पुलिस अस्पताल पहुंची और मामले की जांच शुरू की. इस मामले में एक और मोड़ तब आ गया, जब एक तीसरे व्यक्ति प्रदीप राय ने भी खुद को उस बच्ची का पिता होने का दावा कर दिया.

गंभीरता को देखते हुए मामले की पड़ताल पुलिस ने शुरू की. पुलिस ने बच्ची की मां से पूछताछ की तो उसने स्वीकारा कि उसकी शादी हर्ष के साथ हुई थी. उसने पुलिस को बताया कि उसकी किसी बात को लेकर अपने पति से अनबन चल रही थी. लेबर पेन शुरू होने के बाद वह  दीपांकर पाल के साथ अस्पताल में आ गई. हर्ष द्वारा दिखाए गए मैरिज सर्टिफिकेट के आधार पर पुलिस ने हर्ष को उसकी बच्ची से मिलवाया. वहीं, इस मामले पर महलिा की मां ने कुछ भी टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है.