close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

OMG! कुत्ते का पिल्ला समझ जंगली जानवर घर ले आया शख्स, असलियत जान उड़ गए होश

बेसहारा कुत्ते के बच्चे का घर में व्यवहार देख उसकी सच्चाई जानकर उस शख्स के होश उड़ गए.

OMG! कुत्ते का पिल्ला समझ जंगली जानवर घर ले आया शख्स, असलियत जान उड़ गए होश
पिल्ला बहुत अधिक मात्रा में खाना खाने लगा और कुछ ही दिनों के बाद पिल्ले का वजन 80 किलोग्राम का हो गया. (फाइल फोटो)

नई दिल्लीः घरों में जानवर पालने का शौक कई लोगों को होता है. कुछ लोग अपने इस शौक को छोटे पशु-पक्षी पाल कर पूरा करते हैं तो कुछ लोग इसे घरों में बड़े जानवर पाल कर पूरा करते हैं. ज्यादातर लोग अपने साथ कुत्ते, बिल्ली और छोटे पक्षी पालना पसंद करते हैं. हम अपने आस-पास अक्सर ऐसा देखते हैं कि लोग अपने शौक को पूरा करने के लिए सड़क पर घूम रहे पशुओं को पाल लेते हैं और उन्हें सहारा देते हैं. इन दिनों सोशल मिडिया में एक ऐसी ही खबर काफी वायरल हो रही है, जिसमें एक व्यक्ति बेसहारा कुत्ते के बच्चे को अपने घर में पालने के इरादे से लेकर आया, लेकिन घर में उसका व्यवहार देखर उसकी सच्चाई जानकर उस शख्स के होश उड़ गए.

रांची का एक ऐसा अस्पताल जो जानवरों के लिए है आखिरी उम्मीद, मिलती है ICU की व्यवस्था

दरअसल, यह पूरी घटना चीन की है. एक व्यक्ति पहाड़ों में घूमने गया था और उसे वहां एक कुत्ते का बच्चा भटकता हुआ मिला जिसे वह अपने साथ घर ले आया. जिसकी मासूमियत को देखकर उसने उसे पालने का फैसला किया था वह घर जाते ही अजीब सी हरकते करने लगा, जिसे देखकर शख्स अचंभित हो गया. पिल्ले ने पहले तो घर पर दो पैरों पर चलना शुरू किया, लेकिन उस शख्स ने पिल्ले की इस हरकत पर ध्यान नहीं दिया. 

सोनपुर मेला में छाया बाहुबली विधायक अनंत सिंह का जलवा, दर्शकों को लुभा रहे घोड़े-हाथी

पिल्ला बहुत अधिक मात्रा में खाना खाने लगा और कुछ ही दिनों के बाद पिल्ले का वजन 80 किलोग्राम का हो गया. उसके वजन को देखकर चीनी शख्स को उसके कुत्ते का बच्चा होने पर शक हुआ क्योंकि किसी पिल्ले का इतना वजन होना नामुमकिन था. कुत्ते का बच्चा बड़ा होने के बावजूद भौंकता नहीं था. दो पैरों पर चलता था और ढेर सारा खाना खाता था. उसने खुद से जांच पड़ताल की तो उसे समझ में आया कि यह दरअसल भालू का बच्चा है.

अजब-गजब : ये हैं पटना के विष पुरुष, 50 की उम्र में भी खाते हैं सांप-बिच्छू

सच्चाई जानने के बाद भी उस चीनी शख्स ने उसे छोड़ा नहीं बल्कि उसे अपने ही घर में एक पिजड़े में रख लिया, लेकिन यह बात चीन के वन विभाग के अधिकारियों को पता चल गई और वह उसे अपने कब्जे में ले लिए. चीनी नागरिक ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि भालू काफी दोस्ताना व्यवहार रखता था. उसने कभी भी उसे नुकसान नहीं पहुंचाया. वह उसे अपने हाथ से खिलाता था, नहलाता था और घूमाने भी ले जाता था. जब भालू अपने दो पैरों पर चलने लगा तो मुझे संदेह हुआ कि यह कुत्ते का पिल्ला तो नहीं है.