close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: PM मोदी के समर्थन के लिए अपनाया जा रहा अलग-अलग तरीका, महिला ने खींचा ट्रक

यह महिला तमिलनाडू से आईं हैं और पीएम नरेंद्र मोदी की फैन हैं. उन्होंने इस चुनावी राज्य में जनता को आकर्षित करने के लिए अपनी कमर के सहारे ट्रक को खींचा. यह महिला पीएम मोदी की बहुत बढ़ी फैन हैं 

राजस्थान: PM मोदी के समर्थन के लिए अपनाया जा रहा अलग-अलग तरीका, महिला ने खींचा ट्रक
राजलक्ष्मी अपने लक्ष्य को पूरा करने के लिए देशभर में बुलेट लेकर निकली हैं.

बारां/ ओंकार शर्मा: राजस्थान विधानसभा चुनाव अपने पूरे चरम पर हैं. इसके लिए राजनेता हो या प्रशंसक हर कोई अपनी पार्टी के प्रचार मे तरह-तरह के हथकंडे अपना रहा है. कहीं कोई नेता चुनाव प्रचार के लिए जनता से ये कहता नजर आ रहा है कि यदि मुझे वोट नहीं दिया तो मैं आत्महत्या कर लूंगा. तो कहीं कोई प्रत्याशी अलग तरकीब अपना रहा है. ऐसे ही राजस्थान के बारां में भी एक महिला ने पीएम मोदी का समर्थन करते हुए अलग तरकीब अपनाई और कमर के सहारे 7.5 टन का ट्रक खींचकर जनता को आकर्षित करने की कोशिश की. 

दरअसल, यह महिला तमिलनाडू से आईं हैं और पीएम नरेंद्र मोदी की फैन हैं. उन्होंने इस चुनावी राज्य में जनता को आकर्षित करने के लिए अपनी कमर के सहारे ट्रक को खींचा. यह महिला पीएम मोदी की बहुत बढ़ी फैन हैं और 2019 में उन्हें एक बार चुनावों में विजय होते हुए देखना चाहती हैं. तमिनाडू की महिला राजलक्ष्मी अपने इसी लक्ष्य को पूरा करने के लिए देशभर में बुलेट लेकर निकली हैं और अलग- अलग राज्यों के अलग अलग शहरों में जाकर पीएम मोदी को जीताने की लोगों से अपील कर रही हैं. 

इस दौरान राजलक्ष्मी ने बताया कि वो "कहो दिल से मोदी दिल फिर से" की थीम को लेकर बुलेट से पूरे देशभर की यात्रा कर रही हैं. इस उद्देश्य से कि 2019 के चुनाव में फिर से एक बार मोदी की सरकार आए. इसके लिए वो प्रत्येक राज्य के हर जिले में जाकर ये करतब भी दिखा रही हैं. इस करतब को दिखाकर वह महिलाओं को यह संदेश देना चाहती है कि महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पुरुषों से कम नहीं हैं. महिलाएं भी आगे आकर सभी काम कर सकती हैं. उन्होंने कहा कि कॉलेज में वह लड़कियों को सेल्फ डिफेन्स सीखा रही हैं. 7.5 टन का ट्रक खींचकर वह बताना चाहती हैं कि ऐसा कोई काम नहीं है जो महिलाएं नहीं कर सकती.