close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

PM मोदी का सबसे बड़ा फैन, जिसने 5 साल बाद करवाई शेविंग, जानें क्या थी वजह

 2014 में मोदी पीएम बनते ही शाहजहांपुर के रहने वाले राजाराम उनके कायल हो गए. राजाराम को मोदी द्वारा शुरू की गई योजनाएं बेहद पसंद आईं. तब उन्होंने कसम खाई कि अब जब दोबारा मोदी पीएम बनेंगे और जब वह दूसरी बार पीएम पद की शपथ लेंगे, तब वह अपनी दाढ़ी कटवाएंगे. 

PM मोदी का सबसे बड़ा फैन, जिसने 5 साल बाद करवाई शेविंग, जानें क्या थी वजह
मोदी समर्थक ने उनके दोबारा प्रधानमंत्री बनने तक दाढ़ी न काटने की शपथ ली थी.

शाहजहांपुर: उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में नरेंद्र मोदी के एक फैन ने पांच साल के बाद उस वक्त अपनी दाढ़ी कटवाई, जब मोदी प्रधानमंत्री पद की शपथ ले रहे थे. मोदी समर्थक ने उनके दोबारा प्रधानमंत्री बनने तक दाढ़ी न काटने की शपथ ली थी. मोदी के लिए अपनी दाढ़ी कटवाने वाले इस समर्थक ने उन्हें दोबारा प्रधानमंत्री बनने पर बधाई दी है.

दरअसल, 2014 में मोदी पीएम बनते ही शाहजहांपुर के रहने वाले राजाराम उनके कायल हो गए. राजाराम को मोदी द्वारा शुरू की गई योजनाएं बेहद पसंद आईं. तब उन्होंने कसम खाई कि अब जब दोबारा मोदी पीएम बनेंगे और जब वह दूसरी बार पीएम पद की शपथ लेंगे, तब वह अपनी दाढ़ी कटवाएंगे. 30 मई को वह दिन आया. एक तरफ पीएम मोदी शपथ ले रहे थे, वहीं, दूसरी तरफ इस शख्स की दाढ़ी कटवाई. 

थाना सदर बाजार के झंडा इलाके में रहते हैं. इनका रोजगार प्रसिद्ध चूड़ी वाली गली में होता है. वहां पर राजाराम जूते मरम्मत का कार्य करते हैं. राजाराम के मुताबिक, पीएम के लिए दाढ़ी रखने की उनकी मनोकामना पूरी हुई है. 2014 में नरेंद्र मोदी पीएम बबनते ही कुछ फैसले उन्होंने ऐसे लिए, जिसके बाद वह उनके फैन हो गए.

उनका कहना है कि प्रधानमंत्री मोदी एक युगपुरूष है. राजाराम बताते हैं कि हम भी बेहद गरीब हैं. हमें आजतक कभी किसी सरकारी योजना का लाभ नहीं मिला है. पांच साल पहले वह बीएसपी समर्थक रहा करते थे. 

लाइव टीवी देखें

उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों द्वारा शुरू की हुई योजनाओं का लाभ गरीब तक नहीं पहुंच पाता था. योजना लाभ पाने के लिए उन सरकारों में गरीबों को घूस देना पड़ती थी. लेकिन पीएम मोदी ने दलालों का ही सफाया कर दिया है. हमें योजना का लाभ नहीं मिला तो क्या हुआ मगर देश में लाखों गरीबों को तो योजनाओं का लाभ मिल रहा है