close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

45 साल से नाश्ते में कांच खा रहे हैं ये वकील साहब, यकीन न हो तो देख लीजिए VIDEO

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि वकील की पत्नी रोटी-सब्जी के बजाय पति के लिये कांच की जुगाड़ करती है.

45 साल से नाश्ते में कांच खा रहे हैं ये वकील साहब, यकीन न हो तो देख लीजिए VIDEO
वकील दयाराम साहू को बचपन से ही कांच खाने की लत लगी हुई है.

डिंडोरी: मध्य प्रदेश के डिंडौरी जिले में रहने वाले एक वकील दयाराम साहू (Dayaram Sahu) को कांच खाने का खतरनाक शौक है. वह पिछले 40-45 सालों से ग्लास खा रहे हैं. इन्हें बचपन से ही कांच खाने का जूनून सवार था जो अब भी बरकरार है.

शहपुरा निवासी वकील दयाराम बताते हैं, "यह मेरे लिए एक लत है. इस आदत से मेरे दांतों को नुकसान हुआ है. मैं दूसरों को यह सुझाव नहीं देना चाहूंगा कि यह स्वास्थ्य के लिए खतरनाक है. मैंने अब इसे खाना कम कर दिया है.”

वीडियो में आप देख सकते हैं कि दयाराम बल्ब और बॉटल के टुकड़ों को कितनी आसानी से चबाकर निगल जाते हैं. आपको जानकर हैरानी होगी कि उनकी पत्नी कांच खाने से रोकने की बजाय उनके लिए कांच का जुगाड़ करती है.

दयाराम की पत्नी बताती हैं कि शादी के ठीक बाद जब वह ससुराल पहुंची थी तब अपने पति को चुपचाप कांच खाता देख वह दंग रह गई थी. उन्होंने कई बार अपने पति को कांच खाने से रोकने की कोशिश भी की लेकिन दयाराम नहीं माने, लिहाजा उनकी पत्नी अब खुद कांच लाकर उन्हें देती है.

जब हमने दयाराम से उनके अजीबोगरीब शौक के बारे में जानने की कोशिश की तो उन्होंने बताया कि बचपन से ही उनके दिमाग में कुछ अलग करने की चाह थी और इसी चाहत के चलते उन्होंने कांच खाना शुरू किया जो पहले उनका शौक फिर बाद में नशा बन गया. दयाराम की मानें तो पहले वो एक किलो तक कांच चबा जाते थे. हालांकि दांत कमजोर होने के कारण अब उन्होंने कांच खाना धीरे-धीरे कम कर दिया है.