Viral Video: 32वीं मंजिल पर लटककर खिड़की ठीक कर रहा था, हुआ कुछ ऐसा, महिला ने बीच से ही काट दी रस्सी
X

Viral Video: 32वीं मंजिल पर लटककर खिड़की ठीक कर रहा था, हुआ कुछ ऐसा, महिला ने बीच से ही काट दी रस्सी

Viral News: एक महिला ने गुस्से में बिल्डिंग पर लटकने वाले दो वर्कर्स की रस्सी इसलिए काट दी, क्योंकि उन्होंने इसके बारे में पहले सूचना नहीं दी थी. यह खबर अब दुनियाभर में वायरल हो गई.

Viral Video: 32वीं मंजिल पर लटककर खिड़की ठीक कर रहा था, हुआ कुछ ऐसा, महिला ने बीच से ही काट दी रस्सी

Shocking News: थाईलैंड में एक ऐसा मामला आया, जिसके बारे में सुनकर आप हैरान रह जाएंगे. एक ऊंची इमारत में रहने वाली महिला ने गुस्से में बिल्डिंग के बाहर लटके हुए दो पेंटरों की रस्सी इसलिए काट दी, क्योंकि उन्होंने बताया नहीं कि वह उस दिन काम करने वाले हैं. इतना ही नहीं, महिला ने उन्हें 26वें मंजिल के ऊपर ही लटका हुआ छोड़ दिया, जब तक कि उन्हें बचाया नहीं गया. यह जानकारी बुधवार को पुलिस ने दी.

महिला ने गुस्से में काट दी वर्कर्स की रस्सी

थाई राजधानी के उत्तर में पाक क्रेट पुलिस स्टेशन के प्रमुख पोल कर्नल पोंगजैक प्रीचाकरुनपोंग ने द एसोसिएटेड प्रेस को बताया कि महिला पर हत्या के प्रयास और संपत्ति को नष्ट करने के आरोप हैं. पोंगजैक ने यह नहीं बताया कि उसने रस्सी किस वजह से काटी, लेकिन थाई मीडिया ने बताया कि वह स्पष्ट रूप से फ्रस्टेटेड हो गई, जब वर्कर उसके कमरे के बाहर दिखाई दिए. महिला को पहले नहीं बताया गया था कि वे 12 अक्टूबर को काम करेंगे.

32वीं मंजिल पर इमारत की मरम्मत कर रहे थे वर्कर्स

सोशल मीडिया पर एक वीडियो क्लिप में रस्सी से लटके हुए दो पेंटर्स को 26वीं मंजिल के निवासियों द्वारा खिड़की खोलने और उन्हें अंदर जाने के लिए कहते हुए दिखाया गया है. म्यांमार का रहने वाला पेंटर सॉन्ग ने थाई मीडिया को बताया कि उसने और उसके दो दोस्त 32वीं मंजिल पर इमारत में आई दरार की मरम्मत के लिए आए थे.

देखें Video-

 

महिला को कोर्ट में किया गया पेश

कोंडो के मैनेजमेंट ने पेंटरों के साथ घटना की सूचना पुलिस को दी. मीडिया ने बताया कि 34 वर्षीय महिला ने पहले तो खुद को जिम्मेदार मानने से इनकार किया, लेकिन पुलिस ने टूटी हुई रस्सी के फिंगरप्रिंट और डीएनए विश्लेषण के लिए भेज दिया. प्रफाइवान ने कहा कि यह घटना चौंकाने वाली है और ऐसा बिल्कुल नहीं होना चाहिए. बुधवार को महिला और उसके वकील थाने में पेश हुए. पुलिस द्वारा उसे सीसीटीवी फुटेज और फोरेंसिक सबूत दिखाने के बाद, उसने कबूल किया लेकिन वर्कर्स को मारने के किसी भी इरादे से इनकार किया.

पोंगजाक ने कहा कि संदिग्ध को अस्थायी रूप से रिहा कर दिया गया था. उन्होंने कहा कि पुलिस 15 दिनों के भीतर प्रांतीय अदालत में अभियोग दायर करेगी. हत्या के प्रयास के आरोप में दोषी पाए जाने पर उसे 20 साल तक की जेल हो सकती है.

Trending news