OMG: नाक से शहनाई बजाता है ये शख्स! अनोखी कला के दीवाने हुए लोग

बांकुड़ा जिले के महादेव मुखोपाध्याय जो पेशे से शिक्षक हैं लेकिन वह एक शानदार शहनाई वादक भी हैं.

OMG: नाक से शहनाई बजाता है ये शख्स! अनोखी कला के दीवाने हुए लोग

बांकुड़ा: पश्चिम बंगाल (West Bengal) को विभिन्न कलाओं का प्रदेश माना जाता है. यहां की संस्कृति और कला न केवल देश बल्कि विदेशों में भी मशहूर है. आज हम आपको एक ऐसे कलाकार के बारे में बताने जा रहे हैं जिसकी अनोखी कला को देख कई लोग दांग रह गए. बांकुड़ा जिले के महादेव मुखोपाध्याय जो पेशे से शिक्षक हैं लेकिन वह एक शानदार शहनाई वादक भी हैं.

अब आप यह सोच सकते हैं कि शहनाई बजाना तो आम बात है. लेकिन महादेव के मामले में यह शहनाई कुछ अलग है क्योंकि महादेव असली शहनाई से नहीं बल्कि शहनाई की आवाज वो अपनी नाक से निकलते हैं. हलांकि महादेव को इसे शहनाई कहने में आपत्ति है. इसीलिए उन्होंने इसे 'नसाई' का नाम दिया है. यानि नाक से शहनाई के सुर निकालना. इस नसाई को सुनकर आप अनुमान नहीं लगा पाएंगे की यह असली शहनाई है या फिर नाक और मुंह से निकाली जा रही शहनाई की धुन. 

ये भी पढ़ें: 'दादा' का रिकॉर्ड तोड़ेगा 'पोता', तिहाड़ में निर्भया के 4 मुजरिमों को एकसाथ देगा फांसी

बचपन से ही महादेव उत्साद बिस्मिल्लाह खान और अली हुसैन के फैन रहे हैं. महादेव ने शहनाई वादक बाउल डोम नाम के एक कलाकार को अपना गुरु माना. उन्होंने बचपन की इस इच्छा को अपना शौक बना लिया और धीरे-धीरे नाक और मुंह से शहनाई की धुन निकालने लगे. अब महादेव को बंगाल के ही विभिन्न प्रांतो में विभिन्न अनुष्ठानों में मुख्य अतिथि के तौर पर महादेव को बुलाया जाता है.

ये भी पढ़ें: आखिर राजकुमार हैरी और मेगन ने बकिंघम पैलेस छोड़ने का फैसला क्यों किया?

हलांकि महादेव इस बात को मानते हैं कि नसाई की जो अनोखी कला उन्होंने इजात की है वो शहनाई का विकल्प कभी नहीं हो सकती. आज उनकी पत्नी और परिवार के लोग उनके इस कला पर गर्व करते हैं. 

ये वीडियो भी देखें: