सावधान: ब्राइटनेस फुल करके Mobile यूज करती थी महिला, आंखों में हो गए 500 छेद

हम सभी जानते हैं कि मोबाइल का ज्यादा इस्तेमाल हमारी स्किन, बाल और आंखों के लिए कितना नुकसानदायक साबित हो सकता है, इसके बाबजूद हमारी लाइफ में मोबाइल का इस्तेमाल बढ़ता ही जा रहा है. 

सावधान: ब्राइटनेस फुल करके Mobile यूज करती थी महिला, आंखों में हो गए 500 छेद
वर्तमान में तो कई लोग इसके खतरनाक इस्तेमाल से जूझ भी रहे हैं.

नई दिल्ली : आजकल की सोशल लाइफ में रोजाना 7 से 8 घंटे तक मोबाइल का इस्तेमाल करना एक आम सी बात हो रही है. किसी से बात करने के बहाने, सोशल मीडिया पर चैट और दिनों-दिन बढ़ते नए-नए ऐप के ट्रेंड यूज करने की ललक कुछ ज्यादा ही हो गई है. हम सभी जानते हैं कि मोबाइल का ज्यादा इस्तेमाल हमारी स्किन, बाल और आंखों के लिए कितना नुकसानदायक साबित हो सकता है, इसके बाबजूद हमारी लाइफ में मोबाइल का इस्तेमाल बढ़ता ही जा रहा है. 

वर्तमान में तो कई लोग इसके खतरनाक इस्तेमाल से जूझ भी रहे हैं. किसी को चश्मा लग गया है तो किसी को सिर दर्द की परेशानी हो गई है. मोबाइल के इस्तेमाल का एक ऐसा ही खतरनाक मामला सामने आया है ताइवान में.  

यह भी पढ़ें : पाकिस्तान के स्कूल में शान से लहराया तिरंगा, बजाया गया 'फिर भी दिल है हिन्दुस्तानी'

ब्राइटनेस फुल करके मोबाइल का इस्तेमाल
वर्ल्ड ऑफ बज़ के मुताबिक, ताइवान में एक लड़की अपना मोबाइल ब्राइटनेस फुल करके इस्तेमाल करती थी. पूरा दिन लगातार मोबाइल यूज करने से लड़की की आंखें तो खराब नहीं हुई, बल्कि उसकी आंखों के कोर्निया में एक या दो नहीं बल्कि 500 छेद हो गए.

दरअसल, लड़की प्रोफेशन से सेक्रेटरी है. अपने काम के कारण उसे अक्सर अपना फोन साथ लेकर ही चलना पड़ता था. देर रात हो या फिर सुबह सड़की को फटाफट मेल, मैसेज और कॉल का जवाब देना पड़ता है. उसे मोबाइल पर एक्टिव रहना होता है. इस वजह से वह अपने मोबाइल की ब्राइटनेस को हमेशा फुल रखती थी. ब्राइटनेस फुल होने के कारण लड़की की आंखों के कोर्निया में 500 छेद हो गए. 

2018 में हुई कई सारी परेशानियां
रिपोर्ट्स के मुताबिक, लड़की काफी वक्त तक मोबाइल का इस्तेमाल ऐसे ही करती रही, लेकिन मार्च 2018 में उसे कुछ दिक्कत महसूस हुई, जिसके बाद उसने डॉक्टर्स को दिखाया. डॉक्टर्स ने उसे आई ड्रॉप्स डालने के लिए कहा. लंबे समय तक जब आई ड्राप्स डालने से भी कुछ असर नहीं हुआ तो उसने डॉक्टर चेंज करके परेशानी को जानना चाहा. अस्पताल में इलाज के दौरान उसे पता चला कि उसकी बाईं आंख के कोर्निया में 500 छेद हो चुके हैं. फिलहाल उस लड़की का इलाज जारी है.

डॉक्टरों का कहना है कि ज्यादा मोबाइल का इस्तेमाल करने से आंखों में पानी, दर्द और बाल झड़ने की समस्या आम है, लेकिन मोबाइल के इस्तेमाल से कोर्नियां में छेद होने का मामला पहली बार सामने आया है. फिलहाल उन्होंने लड़की का इलाज जारी रखा है.