पाकिस्तानः लाहौर आत्मघाती हमले में मरने वालों की संख्या बढ़ कर हुई 11

पाकिस्तान के लाहौर में सबसे पुरानी सूफी दरगाह के बाहर बुधवार को हुए शक्तिशाली आत्मघाती हमले में मरने वालों की संख्या गुरुवार को बढ़ कर 11 हो गई है.

पाकिस्तानः लाहौर आत्मघाती हमले में मरने वालों की संख्या बढ़ कर हुई 11
पाकिस्तान के लाहौर में आत्मघाती हमला हुआ है. (फोटो साभारः Twitter)

लाहौरः पाकिस्तान के लाहौर में सबसे पुरानी सूफी दरगाह के बाहर बुधवार को हुए शक्तिशाली आत्मघाती हमले में मरने वालों की संख्या गुरुवार को बढ़ कर 11 हो गई है. अधिकारियों ने बताया कि घटना में घायल एक अन्य पुलिसकर्मी ने आज दम तोड़ दिया.

यह धमाका मुसलमानों के पवित्र रमजान महीने के दौरान हुआ और इसे एक किशोर तालिबानी लड़ाके ने अंजाम दिया जिसने 11 वीं शताब्दी की इस दरगाह के निकट विस्फोट कर खुद को उड़ा लिया.

जियो न्यूज की खबरों में कहा गया है कि इस धमाके में छह पुलिसकर्मियों समेत 11 लोगों की मौत हो चुकी है. खबर के अनुसार 26 अन्य लोग घायल हो गए हैं.

लाहौर पुलिस के प्रवक्ता सैयद मुबाशिर ने बुधवार को प्रेट्र को बताया, 'आत्मघाती हमलावर करीब 15 साल का था और विस्फोट करने से पहले उसकी कोई गतिविधि संदिग्ध नहीं थी.'

आपको बता दें कि लाहौर स्थित पाकिस्तान के सबसे पुराने और बेहद प्रसिद्ध सूफी दरगाह में बुधवार को एक किशोर तालिबानी आत्मघाती हमलावर ने खुद को बम से उड़ा लिया. मरने वालों में पांच पुलिस कमांडो भी शामिल हैं.

पुलिस ने बताया कि 11वीं सदी के दाता दरबार दरगाह के गेट नंबर दो के बाहर सुबह करीब पौने नौ बजे शक्तिशाली विस्फोट हुआ. दाता दरबार दक्षिण एशिया में सबसे बड़ा सूफी दरगाह है जहां सुरक्षा के लिये पुलिसकर्मियों को भी तैनात किया जाता है.