Air Strike: पाकिस्तान की गीदड़भभकी- 'अपनी पंसद की जगह और वक्त पर देंगे जवाब'

भारतीय हवाई हमले के कुछ घंटे के बाद एनएससी की विशेष बैठक में प्रधानमंत्री इमरान खान ने सशस्त्र बलों और पाकिस्तान के लोगों से किसी भी स्थिति का सामना करने के लिए तैयार रहने को कहा है.

Air Strike: पाकिस्तान की गीदड़भभकी- 'अपनी पंसद की जगह और वक्त पर देंगे जवाब'

इस्लामाबाद: पाकिस्तान ने मंगलवार को भारत के दावे को 'पूरी तरह खारिज' कर दिया कि उसने बालाकोट के नजदीक आतंकवादी शिविर को निशाना बनाया और भारी क्षति पहुंचाई. साथ ही उसने संकल्प लिया कि भारत के 'गैरजरूरी आक्रामकता' का जवाब वह 'अपने पसंद के स्थान और समय' पर देगा.

पाकिस्तान के अंदर बालाकोट में भारतीय हवाई हमले के कुछ घंटे के बाद राष्ट्रीय सुरक्षा समिति (एनएससी) की विशेष बैठक में प्रधानमंत्री इमरान खान ने सशस्त्र बलों और पाकिस्तान के लोगों से किसी भी स्थिति का सामना करने के लिए तैयार रहने को कहा है.

नयी दिल्ली में अधिकारियों ने जानकारी दी कि भारत ने मंगलवार की सुबह पाकिस्तान में जैश ए मोहम्मद के सबसे बड़े प्रशिक्षण शिविर पर एयर स्ट्राइक कर उसे नष्ट कर दिया. हमले में 'काफी संख्या में' आतंकवादी, प्रशिक्षक और वरिष्ठ कमांडर मारे गए.

इस्लामाबाद में एनएससी की बैठक के बाद एक बयान में कहा गया,'फोरम (एनएससी) भारत के दावे को पूरी तरह खारिज करता है कि उसने बालाकोट के नजदीक एक कथित आतंकवादी शिविर को निशाना बनाया और भारी क्षति पहुंचाई. भारत की सरकार ने एक बार फिर काल्पनिक दावे किए हैं.' इसने दावा किया कि 'चुनावी माहौल में अपने घरेलू फायदे के लिए कार्रवाई की गई जिससे क्षेत्रीय शांति और स्थिरता को गंभीर खतरा पहुंचा है.' 

इसने कहा, 'फोरम का मानना है कि भारत ने गैर जरूरी आक्रामकता अपनाई जिसका पाकिस्तान अपनी पसंद के स्थान और समय पर जवाब देगा.' एनएससी ने दुनिया की मीडिया को जमीनी हकीकत दिखाने के लिए आमंत्रित किया और घटनास्थल का दौरा करने का प्रस्ताव दिया. बयान में कहा गया है कि राष्ट्र को विश्वास में लेने के लिए सरकार ने संसद का संयुक्त सत्र बुलाने का निर्णय किया है.

क्षेत्र में भारत की 'गैर जवाबदेही वाली नीति का भांडाफोड़' करने के लिए खान वैश्विक नेतृत्व के साथ वार्ता भी करेंगे. प्रधानमंत्री खान ने राष्ट्रीय कमान प्राधिकरण (एनसीए) की बुधवार को विशेष बैठक बुलाई है.

बाद में रक्षा और वित्त मंत्री के साथ संवाददाता सम्मेलन करते हुए कुरैशी ने कहा कि पाकिस्तान 'भारतीय आक्रामकता का जवाब'  देगा. उन्होंने घोषणा की कि वर्तमान स्थिति पर लोगों एवं अन्य दलों को विश्वास में लेने के लिए तीन सदस्यीय समिति का गठन किया गया है जिसमें वह, वित्त मंत्री और रक्षा मंत्री शामिल हैं.

सवालों का जवाब देते हुए कुरैशी ने दावा किया कि भारतीय लड़ाकू विमानों ने मंगलवार की सुबह 'कई स्थानों से घुसने' का प्रयास किया. उन्होंने कहा, 'लेकिन पाकिस्तानी विमानों के हस्तक्षेप के बाद कुछ मिनट के अंदर ही वे लौटने के लिए बाध्य हुए.' उन्होंने इस बात को खारिज कर दिया कि भारतीय हमले का जवाब देने में पाकिस्तान की वायुसेना ने विलंब किया. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के लड़ाकू विमान ‘‘तैयार’’ थे.

भारतीय वायुसेना के हमले के बाद स्थिति को 'गंभीर' करार देते हुए कुरैशी ने कहा कि प्रधानमंत्री खान ने मुद्दे पर संयुक्त अरब अमीरात के शाहजादे शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहन एवं सऊदी के शाहजादे मोहम्मद बिन सलमान से भी फोन पर बात की.

(इनपुट - भाषा)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.