close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'मेरा यार इमरान खान'...'जीवे जीवे इमरान खान,' BJP का कांग्रेस पर निशाना

पाकिस्‍तानी प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) के संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा (UNGA) में भाषण के दौरान कश्‍मीर का राग अलापने और अपनी बातों के समर्थन में कांग्रेस को कोट करने के बाद बीजेपी ने कांग्रेस पर निशाना साधा है.

'मेरा यार इमरान खान'...'जीवे जीवे इमरान खान,' BJP का कांग्रेस पर निशाना

नई दिल्‍ली: पाकिस्‍तानी प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) के संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा (UNGA) में भाषण के दौरान कश्‍मीर का राग अलापने और अपनी बातों के समर्थन में कांग्रेस को कोट करने के बाद बीजेपी ने कांग्रेस पर निशाना साधा है. बीजेपी के राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता संबित पात्रा ने कांग्रेस को टैग करते हुए ट्वीट के माध्‍यम से कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि आपके प्रयत्‍न व्‍यर्थ नहीं जाएंगे. उन्‍होंने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि आज तो आप बहुत खुश होंगे क्‍योंकि इमरान खान ने आपकी बातों को अपने भाषण में रेखांकित किया.

उल्‍लेखनीय है कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा के सत्र में अपने संबोधन के दौरान एक बार फिर कश्मीर मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा कि कश्मीर से कर्फ्यू हटने के बाद वहां काफी खून-खराबा होगा. इससे पहले भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां अपने संबोधन में दुनिया को शांति का संदेश दिया.

इमरान ने परमाणु युद्ध की धमकी देते हुए कहा, "मैं सोचता हूं कि मैं कश्मीर में होता और 55 दिनों से बंद होता, तो मैं भी बंदूक उठा लेता. आप ऐसा करके लोगों को कट्टर बना रहे हैं. मैं फिर कहना चाहता हूं कि यह बहुत मुश्किल समय है. इससे पहले कि परमाणु युद्ध हो, संयुक्त राष्ट्र की कुछ करने की जिम्मेदारी है. हम हर स्थिति के लिए तैयार हैं. अगर दो देशों के बीच युद्ध हुआ तो कुछ भी हो सकता है."

LIVE TV

उन्होंने कहा, "कश्मीर में लोगों को जानवरों की तरह क्यों बंद कर दिया गया है. वे इंसान हैं. कर्फ्यू उठ जाएगा तो क्या होगा. तब मोदी क्या करेंगे. उन्हें लगता है कि कश्मीर के लोग इस स्थिति को स्वीकार कर लेंगे? कर्फ्यू उठने के बाद कश्मीर में खून की नदियां बहेंगी, लोग बाहर आएंगे. क्या मोदी ने सोचा कि तब क्या होगा?"

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने इसके अलावा इस्लामोफोबिया का भी मुद्दा उठाया.