चीनः खदान धसने से 21 खनिकों की मौत, कई घायल

यह खदान ‘बैजी माइनिंग’ के स्वामित्व वाली है तथा दुर्घटना के कारणों का पता लगाया जा रहा है.

चीनः खदान धसने से 21 खनिकों की मौत, कई घायल
बचावकर्मियों ने अंदर फंसे दो खनिकों के भी शव बरामद कर लिए हैं (फाइल फोटो)

बीजिंग: उत्तरपश्चिम चीन में कोयले की एक खदान की छत गिरने से 21 खनिकों की मौत हो गई . सरकारी समाचार समिति ‘शिन्हुआ’ की एक खबर के अनुसार दुर्घटना शनिवार दोपहर शान्शी प्रांत स्थित लिजियागौ कोयला खदान की है. शान्शी में जब यह खदान धसी उस वक्त खदान में कुल 87 लोग काम कर रहे थे. बता दें शुरुआती रिपोर्ट में कहा जा रहा था कि हादसे में 19 लोगों के मारे गए हैं, जबकि 66 कर्मचारियों को हवाई मार्ग से सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने की खबर थी. 

मेघालय: अवैध कोयला खदान में मिले दो खनिकों के शव, मालिक की तालाश जारी

वहीं बचावकर्मियों ने अंदर फंसे दो खनिकों के भी शव बरामद कर लिए हैं. यह खदान ‘बैजी माइनिंग’ के स्वामित्व वाली है तथा दुर्घटना के कारणों का पता लगाया जा रहा है. कोयला खदान में होने वाले हादसों में मृतकों की संख्या में हालांकि कमी आई है, लेकिन चीन में खदान हादसे आम हैं. बता दें चीन विश्व का सबसे बड़ा कोयला उत्पादक देश है.

आपको बता दें कि साल 2018 में भी  चीन के शांगडोंग प्रांत में स्थित एक कोयला खदान में हुए एक हादसे में 8 कर्मचारियों की मौत हो गई थी. यह दुर्घटना विश्व में कोयले के सबसे बड़े उत्पादक चीन में घटी सबसे घातक दुर्घटनाओं में से एक है. इस हादसे में 8 कर्मचारियों के शव बरामद हुए थे.

झारखंड में कोयला खदान धंसी, 50 मजदूर फंसे; सात शव निकाले गए

वहीं 2015 में भी पूर्वोत्तर चीन की एक सरकारी कोयला खदान में आग लग जाने के कारण 21 कर्मचारी मारे गए थे. हीलॉन्गजियांग प्रांत की कोयला खदान में आग लगने से हुई. जिस समय आग लगी, उस समय खदान में कुल 38 खदानकर्मी काम कर रहे थे. आग लगने के बाद इनमें से 16 लोग किसी तरह बच निकलने में कामयाब रहे थे.