अपने इस दोस्त को ही China ने बेच दिया घटिया माल, अब कुछ सुनने को नहीं तैयार
X

अपने इस दोस्त को ही China ने बेच दिया घटिया माल, अब कुछ सुनने को नहीं तैयार

भारत विरोध में जिंदगी गुजारने वाले पाकिस्तान और चीन के रिश्तों में खटास आ गई है. इसकी वजह है चीन की मक्कारी. ड्रैगन ने पाकिस्तानी सेना को घटिया सामान बेच दिया है, जिसे लेकर उसके खिलाफ गुस्सा पनप गया है. पाक सेना और सरकार दोनों उससे नाराज हैं.

अपने इस दोस्त को ही China ने बेच दिया घटिया माल, अब कुछ सुनने को नहीं तैयार

इस्लामाबाद: पाकिस्तान और चीन (Pakistan & China) के बीच सबकुछ पहले जैसा नहीं है. भारत (India) विरोधी इन दोस्तों के रिश्तों में खटास गई है. वजह है चीन द्वारा पाकिस्तान को घटिया माल की आपूर्ति. दरअसल, बीजिंग ने पाकिस्तानी सेना को अत्याधुनिक हथियारों के नाम पर घटिया क्वालिटी का समान भेजा है, जिसे लेकर पाक में चीन के खिलाफ गुस्सा पनप गया है. सरकार के साथ-साथ सेना भी अपने ‘दोस्त’ की इस हरकत से नाराज है. 

Dragon ने अनसुनी की गुहार 
 

चीन (China) से पाकिस्तानी सुरक्षा बलों को आधुनिक हथियारों की एक श्रृंखला की आपूर्ति की गई थी. इसके जरिये पाकिस्तानी सेना को बेहद खराब और घटिया सामान भेजा गया. इसके साथ ही इनकी सर्विसिंग और रख-रखाव के संबंध में उचित जानकारी न होने से पाकिस्तान को परेशानी उठानी पड़ रही है. पाक सेना को यह बात नागवार गुजरी है, अब पाकिस्तान सरकार चीन से बार-बार इसे दुरुस्त करने की गुहार लगा रही है, मगर ड्रैगन को कोई फर्क ही नहीं पड़ रहा.

ये भी पढ़ें -Imran Khan से रिश्तों पर पूर्व पत्नी ने किया बड़ा खुलासा, मोनिका लेविंस्की से की तुलना

Pakistan को बेचे थे Drone 
 

‘अरब न्यूज’ की रिपोर्ट के अनुसार, चीन और पाकिस्तान अक्सर विवादित/कब्जे वाले क्षेत्रों में एक-दूसरे के रुख के लिए समर्थन व्यक्त करते हैं.  हाल ही में सहयोग के संबंध में चीन के चेंगदू एयरक्राफ्ट इंडस्ट्री ग्रुप द्वारा डिजाइन किए गए और चाइना नेशनल एयरो-टेक्नोलाजी इम्पोर्ट एंड एक्सपोर्ट कॉरपोरेशन द्वारा बेचे गए तीन सशस्त्र ड्रोन को जनवरी 2021 में पाकिस्तान वायु सेना में शामिल किया गया था, मगर कुछ ही दिनों बाद इन ड्रोन में खराबी आ गई और अंतत: इन्हें वायु सेना के बेड़े से बाहर कर दिया गया और इनका इस्तेमाल बंद हो गया.

इंजीनियरों को बताया नाकाबिल
 

रिपोर्ट में ड्रोन की खरीद को पाकिस्तानी आर्मी का एक बुरा सपना बताया गया है. अब चीनी ड्रोन को बेचने वाली चाइना नेशनल एयरो-टेक्नोलॉजी इंपोर्ट एंड एक्सपोर्ट कार्पोरेशन यानी CATIC ने ग्राउंडेड ड्रोन की मरम्मत और रख-रखाव में दिलचस्पी नहीं दिखा रहा है. कंपनी द्वारा आपूर्ति किए गए पुर्जे घटिया थे और अधिकतर उपयोग के लिए अनुपयुक्त थे. यहां तक कि पाकिस्तानी सेना की ओर से भेजे गए इंजीनियरों को भी नाकाबिल बता दिया गया. पाकिस्तानी अधिकारियों ने अब चीनी कंपनी से ड्रोन को सही करने के लिए पेशेवरों की एक टीम भेजने की मांग की है. इतना ही नहीं, पाक वायुसेना ने इसका रिप्लेसमेंट भी मांगा है.  

 

Trending news