भारत में चाइनीज ऐप पर पाबंदी को लेकर चीन का बयान- हालात पर नजर, फैसले से चिंतित

चीन के विदेश मंत्रालय ने बयान जारी करते हुए कहा कि वह भारत के फैसले से चिंतित है और हालात पर नजर बनाए हुए है.

भारत में चाइनीज ऐप पर पाबंदी को लेकर चीन का बयान- हालात पर नजर, फैसले से चिंतित
भारत द्वारा चीन के 59 ऐप पर लगाए गए प्रतिबंध पर चीन ने अपनी प्रतिक्रिया दी है.
Play

बीजिंग: चीन (China) ने भारत (India) द्वारा 59 चाइनीज ऐप पर लगाए गए प्रतिबंध पर अपनी प्रतिक्रिया दी है. चीन के विदेश मंत्रालय ने मंगलवार को बयान जारी करते हुए कहा कि वह भारत के फैसले से चिंतित है और हालात पर नजर बनाए हुए है.

चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने कहा, "चीन की सरकार हमेशा अपने कारोबारियों को अंतरराष्ट्रीय और स्थानीय कानूनों का अनुपालन करने के लिए कहती है. निवेशकों के हितों की रक्षा करना भारत सरकार की जिम्मेदारी है. यह पैटर्न भारतीयों के हित में भी नहीं है." 

चीन में मच गया हड़कंप 
भारत सरकार की तरफ से 59 चाइनीज ऐप के बैन किए जाने से चीन में हड़कंप मच गया है. चीन के Weibo सोशल मीडिया पर भारत की तरफ से लगाया गया बैन ट्रेंड कर रहा है. #Indiabans59Chineseapps नाम से बना हैशटैग Weibo पर कल से ही ट्रेंड कर रहा है. चीन के लोग सोशल मीडिया पर भारत के लिए गए फैसले से परेशान दिखे. चीन के लोगों की परेशानी इस बात को लेकर है कि भारत के फैसले से चीन में बेरोजगारी बढ़ेगी. इस बात से भी चीन के लोग परेशान हैं कि भारत से कैंसर से जुड़ी कई अहम दवाएं चीन में आयात की जाती हैं जो काफी सस्ती है. अगर भारत ने इन दवाओं पर भी बैन लगा दिया तो मुश्किलें काफी बढ़ जाएंगी.

ये भी देखें-

भारत सरकार के आदेश के बाद चीन के ऐप्स पर कार्रवाई तेज 
भारत सरकार के आदेश के बाद चीन के ऐप्स पर कार्रवाई तेज हो गई है. एप्पल ऐप और गूगल प्लेस्टोर से टिकटॉक हटा दिया गया है. सरकार ने इन कंपनियों से कहा था कि वे इन ऐप को दी जाने वाली सर्विस को तत्काल प्रभाव से बंद कर दे. 

गौरतलब है कि भारत सरकार ने कल ऐतिहासिक कदम उठाते हुए टिक टॉक, यूसी ब्राउजर सहित चीन के 59 ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया. चीन के साथ सीमा विवाद के करीब दो महीने बाद, भारत ने ये कड़ा कदम उठाया है. सरकार ने चीन के मोबाइल ऐप को देश की बाहरी और आंतरिक सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा बताते हुए प्रतिबंध का ये फैसला लिया.