चीन: शी जिनपिंग इंपीरियल स्प्रिंग्स इंटरनेशनल फोरम में विदेशी मेहमानों से मिले

लातविया के पूर्व राष्ट्रपति वायरा वाइक-फ्रीबरगा, तंजानिया के पूर्व राष्ट्रपति बेंजामिन मकपा, जापान के पूर्व प्रधानमंत्री हतोयामा युकिओ आदि विदेशी मेहमानों ने भाषण दिया

चीन: शी जिनपिंग इंपीरियल स्प्रिंग्स इंटरनेशनल फोरम में विदेशी मेहमानों से मिले
फाइल फोटो

बीजिंग: चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग (XI Jinping) ने मंगलवार को पेइचिंग में वर्ष 2019 इंपीरियल स्प्रिंग्स इंटरनेशनल फोरम में भाग लेने वाले विदेशी मेहमानों से मुलाकात की. शी जिनपिंग ने चीन (China) में राष्ट्रीय शासन की स्थिति और वर्तमान अंतर्राष्ट्रीय स्थिति पर चीन के रुख की जानकारी दी.

जिनपिंग ने कहा कि इस साल चीन लोक गणराज्य की स्थापना की 70वीं वर्षगांठ है. पिछले 70 वर्षों में चीन ने महान प्रगति हासिल की है. चीनी विशेषता वाला समाजवाद चीन में लगातार विकास और स्थित बनाए रखने का मूल कारण है. सभी चीनी लोग इसका समर्थन करते हैं. चीन के भविष्य को लेकर वह आशावान हैं.

LIVE TV...

शी जिनपिंग ने कहा कि चीन का हमेशा से विचार रहा है कि विभिन्न देशों के लोगों को अपनी राष्ट्रीय स्थिति के अनुसार विकास का रास्ता चुनने का अधिकार है. चीन अपने व्यवहार से साबित करना चाहता है कि देश मजबूत होने के बावजूद अपना प्रभुत्व नहीं जमाता. चीन विभिन्न देशों के साथ मानव समुदाय के साझे भविष्य का निर्माण करना चाहता है, ताकि समान समृद्धि साकार हो सके.

लातविया के पूर्व राष्ट्रपति वायरा वाइक-फ्रीबरगा, तंजानिया के पूर्व राष्ट्रपति बेंजामिन मकपा, जापान के पूर्व प्रधानमंत्री हतोयामा युकिओ, बोस्निया व हत्र्जेगोविना के अध्यक्ष दल के पूर्व सदस्य म्लादेन इवानिच, पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति जॉर्ज हर्बर्ट वॉकर बुश के तीसरे बेटे नील बुश और स्लोवेनिया के पूर्व राष्ट्रपति डैनिलो टुर्क आदि विदेशी मेहमानों ने भाषण दिया और विश्व शांति बनाए रखने और अनवरत विकास बढ़ाने में चीन के महत्वपूर्ण योगदान की प्रशंसा की.

(इनपुट: एजेंसी आईएएनएस)