Coronavirus: महामारी को हराने में चीनी सेना निभा रही अहम भूमिका, यहां जानें कैसे

चीनी सेना ने हमेशा से आपदा का विरोध के विशेष युद्ध में भूमिका निभायी.

Coronavirus: महामारी को हराने में चीनी सेना निभा रही अहम भूमिका, यहां जानें कैसे
फाइल फोटो

बीजिंग: चीन (China) में कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी की रोकथाम में चीनी सेना अहम भूमिका निभा रही है. चीनी सेना ने विमानों से 2400 सैनिक चिकित्सकों और सौ से अधिक टन सामग्रियों को वुहान में पहुंचाया. अभी तक वुहान में भेजे गए सैन्य चिकित्सकों की संख्या चार हजार से अधिक है. चीनी सेना ने वर्ष 2003 की सार्स महामारी और अफ्रीका (Africa) के इबोला वायरस महामारी की रोकथाम में अहम भूमिका निभाई थी. 24 जनवरी को वुहान (Wuhan) शहर के बन्द होने के दूसरे दिन ही चीनी सेना के तीन चिकित्सा दलों के 450 लोग क्रमश: शंघाई, छूंगछींग और शीआन से वुहान गए.

वुहान शहर के होशेनशान अस्पताल विशेष तौर पर नए कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए बनाया गया है. 2 फरवरी को चीनी सेना के 1400 चिकित्सकों को इस अस्पताल में तैनात किए गए था. 12 फरवरी से ही इस अस्पताल में एक हजार से अधिक रोगियों का इलाज शुरू हो गया था. सैन्य चिकित्सकों की तैनाती से रोगियों को काफी इलाज मिला है.

साल 2003 में जब चीन में सार्स का प्रकोप हुआ तब भी चीनी सेना के 1383 चिकित्सकों को पेइचिंग में बने श्याओ थांग शान विशेष अस्पताल में तैनात किया गया था. जिन्होंने सार्स को हराने में महत्वपूर्ण योगदान पेश किया था. उधर वर्ष 2008 के सछ्वान भूकंप, वर्ष 2010 के छींगहाई भूकंप तथा उसी साल में हुए कानसू भू-स्खलन के दौरान चीनी सेना के हजारों राहत दल भी आपदा स्थल भेजे गये थे और चीनी सेना ने हमेशा से आपदा का विरोध के विशेष युद्ध में भूमिका निभायी.

ये भी देखें...