चीनी कंपनी को मार्केट से हटानी पड़ी 'इंडियंस के टुकड़े-टुकड़े' वाली टीशर्ट, मांगी माफी

चीन की कंपनियां अक्सर ऐसी हरकतें करती हैं कि उनकी मार्केट में चर्चा हो, ये चर्चा भले ही नेगेटिव हो. हाल ही में विवादित डिजाइन वाली टीशर्ट मार्केट में लॉन्च करने वाली कंपनी को अपना सारा स्टॉक वापस लेना पड़ा है.

चीनी कंपनी को मार्केट से हटानी पड़ी 'इंडियंस के टुकड़े-टुकड़े' वाली टीशर्ट, मांगी माफी
चीनी कंपनी की विवादित डिजाइन वाली टीशर्ट.

नई दिल्ली: चीनी कंपनियां बाजार में अपने प्रचार-प्रसार के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपनाती रहती हैं. इन्हीं वजहों से अक्सर चीनी कंपनियां विवादों में घिरी रहती हैं. हाल ही में हॉन्ग कॉन्ग बेस्ड चीनी कंपनी JNBY ने बच्चों की एक ऐसी T-Shirt लॉन्च की कि बवाल मच गया. JNBY ब्रांड की टीशर्ट पर भारतीयों के लिए आपत्तिजनक शब्द थे साथ ही लिखा था, 'नरक में आपका स्वागत है.' अब इस कंपनी को अपनी इस हरकत पर माफी मांगनी पड़ी है.

कंपनी के खिलाफ फूटा गुस्सा

Independent की रिपोर्ट के मुताबिक तमाम खरीदारों ने चीनी माइक्रोब्लॉगिंग साइट, वीबो पर टीशर्ट की डिजाइन पर आपत्ति जताई. चीनी कपड़ों के ब्रांड JNBY ने बच्चों की टी-शर्ट पर 'मुझे आपको छूने दो' और 'नरक में आपका स्वागत है' जैसे शब्द लिखे थे. एक महिला ये टीशर्ट अपने चार साल के बेटे के लिए लाई लेकिन जब उसने घर पर टीशर्ट पर लिखे शब्द पढ़े तो उसने Chinese social media app Weibo पर लिखा, 'नरक में आपका स्वागत है. क्षमा करें? आप किसका स्वागत कर रहे हैं?' इसके बाद कंपनी के खिलाफ गुस्सा जाहिर करने वालों की संख्या बढ़ती गई. 

यह भी पढ़ें; चीन में बत्‍ती 'गुल', कंपनियों में मचा हाहाकार; Apple के प्रोडक्‍शन पर पड़ेगा प्रभाव!

हटाना पड़ा स्टॉक

आखिरकार जेएनबीवाई ने ग्राहकों की शिकायतों के बीच चीनी फोटो-शेयरिंग ऐप Xiaohongshu पर माफी जारी की. इतना ही नहीं जेएनबीवाई ने इस डिजाइन की सभी टीशर्ट अपने ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म से हटा ली हैं. कंपनी ने बच्चों के टीशर्ट पर 'वेलकम टू हेल' और 'लेट मी टच यू' जैसे अंग्रेजी शब्दों और तस्वीरों का इस्तेमाल किया था इसके साथ ही लिखा था, 'पूरी जगह भारतीयों से भरी हुई है. 'मैं बंदूक लेकर उनके टुकड़े-टुकड़े कर दूंगा.'

LIVE TV 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.