close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कश्मीर मुद्दे पर UN में भी पाकिस्तान को बड़ा झटका, किसी भी दखल से इनकार

यूएन महासचिव ने कहा है कि कश्मीर मुद्दे पर किसी तीसरे पक्ष की कोई आवश्कता नहीं है. 

कश्मीर मुद्दे पर UN में भी पाकिस्तान को बड़ा झटका, किसी भी दखल से इनकार

नई दिल्लीः जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से बौखलाए पाकिस्तान को अब संयुक्त राष्ट्र (United Nations) से भी बड़ा झटका लगा है. संयुक्त राष्ट्र ने कश्मीर मुद्दे को लेकर किसी भी तरह से मध्यस्थता करने से इनकार कर दिया है. यूएन का कहना है कि दोनों देश आप में बातचीत के जरिए इस समस्या का समाधान निकालें.

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटरेस ने कश्मीर मुद्दे को लेकर भारत और पाकिस्तान के बीच चल रही तल्खी पर बयान देते हुए कहा है, 'मैं इस बात पर स्पष्ट राय रखता हूं कि कश्मीर में मानवाधिकारों का पूरी तरह से सम्मान होना चाहिए. और मैं इस बात पर स्पष्ट राय रखता हूं कि कश्मीर समस्या के समाधान के लिए भारत और पाकिस्तान के बीच बातचीत एक आवश्यक तत्व है.'

यूएन महासचिव ने कहा है कि कश्मीर मुद्दे पर किसी तीसरे पक्ष की कोई आवश्कता नहीं है. 

बता दें कि बुधवार (18 सितंबर) को जम्मू-कश्मीर (Jammu kashmir) पर यूरोपीय यूनियन (European Union) ने पाकिस्तान (Pakistan) को कड़ी फटकार लगाई है. पोलैंड ने सख्त तेवर अपनाते हुए कहा है कि भारत में आतंकी चांद से नहीं पाकिस्तान (Pakistan) से आते हैं. पोलैंड ने यह बात EU की संसद में कही है. वहीं इटली ने कहा कि पाकिस्तान (Pakistan)ी आतंकी यूरोप में हमले की योजना बना रहे हैं. फ्रांस के स्‍ट्रॉसबर्ग में यूरोपीय संघ की संसद ने बुधवार को पिछले 11 सालों में पहली बार कश्‍मीर मुद्दे पर चर्चा की और भारत को अपना समर्थन दिया. यहां जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 के हटाए जाने मसले पर चर्चा हुई. इससे पहले 2008 में यहां कश्‍मीर का मुद्दा उठा था.

यह भी पढ़ेंः 'कश्मीर...कश्मीर' चिल्ला रहा पाकिस्तान, UN महासचिव ने जवाब देना भी मुनासिब नहीं समझा

यहां आपको बता दें कि जम्मू कश्मीर को लेकर पाकिस्तान (Pakistan) लगातार अंतरराष्ट्रीय मंच पर भारत की छवि करने की कोशिश में जुटा है, लेकिन उसे लगातार मुंह की खानी पड़ रही है. अमेरिका, रूस, फ्रांस, इजराइल जैसे देशों के अलावा संयुक्त राष्ट्र से भी पाकिस्तान (Pakistan) को फटकार लगाई जा चुकी है. अब यूरोपीय यूनियन (European Union) ने पाकिस्तान (Pakistan) को जम्मू कश्मीर को लेकर फटकार लगाई है. चर्चा है कि पाकिस्तान (Pakistan) इस पर जेनेवा में 9 सितंबर से 27 सितंबर तक चलने वाले संयुक्‍त राष्‍ट्र मानवाधिकार परिषद की 42वीं बैठक में पाकिस्‍तान एक बार फिर से जम्मू कश्मीर का प्रस्‍ताव ला सकता है. 

यूरोपीय यूनियन (European Union) ने कश्‍मीर मुद्दे पर शांतिपूर्ण हल निकालने के लिए भारत-पाकिस्‍तान को बातचीत करने की नसीहत दी है. इटली के यूरोपीयन पीपुल्‍स पार्टी के फुल्‍वियो मार्तुसाइल्‍लो (Fulvio Martusciello) ने कहा, 'पाकिस्‍तान परमाणु हथियारों के प्रयोग करने की धमकी दी है. यह देश आतंकी भेजकर यूरोप में अशांति फैलाने की योजना बना रहा है.'