close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

PoK में जैश के ठिकानों पर भारतीय वायुसेना के हमलों के बाद पाकिस्‍तान में बुलाई गई 'इमरजेंसी मीटिंग'

पाकिस्तानी अख़बार डॉन की वेबसाइट में प्रकाशित खबर में यह जानकारी दी गई है.

PoK में जैश के ठिकानों पर भारतीय वायुसेना के हमलों के बाद पाकिस्‍तान में बुलाई गई 'इमरजेंसी मीटिंग'
(फाइल फोटो)

इस्‍लामाबाद : भारतीय वायुसेना द्वारा मंगलवार तड़के पाक अधिकृत कश्‍मीर (PoK) में हवाई हमले कर आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद के प्रमुख ठिकानों को तबाह किए जाने के बाद पाकिस्‍तान में इमरजेंसी मीटिंग बुलाई गई है. पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भारतीय सैन्य विमान द्वारा की गई हवाई कार्रवाई के बाद विदेश कार्यालय में एक आपातकालीन परामर्श बैठक बुलाई है. इस बैठक में पूर्व विदेश सचिवों और वरिष्ठ राजनयिक भाग लेंगे, जिसमें वर्तमान स्थिति पर विचार-विमर्श किया जाएगा. पाकिस्तानी अख़बार डॉन की वेबसाइट में प्रकाशित खबर में यह जानकारी दी गई है.

सूत्रों के अनुसार, भारत की तरफ से पीओके में बालाकोट, चकोटी और मुजफ्फराबाद में सुबह 3.30 बजे इस कार्रवाई को अंजाम दिया गया. इस हमलेे में बालाकोट में जैश का कंट्रोल रूम पूरी तरह से तबाह हो गया. 

जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर पाकिस्‍तान समर्थित जैश-ए-मोहम्‍मद द्वारा किए गए आतंकी हमले से नाराज भारत की तरफ से यह कार्रवाई की गई है. फिलहाल पीएम मोदी, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और एनएसए एक अहम बैठक कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें- LIVE : भारतीय वायुसेना ने PoK में कैसे किए जैश के ठिकानों पर हवाई हमले, थोड़ी देर में होगा खुलासा

सूत्रों के मुताबिक, भारतीय वायुसेना द्वारा किए गए इन हवाई हमलों के बाद भारत के राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पूरे घटनाक्रम के बारे में जानकारी दी. 


फाइल फोटो...

सूत्रों के अनुसार, जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर पाकिस्‍तान समर्थित जैश-ए-मोहम्‍मद द्वारा किए गए आतंकी हमले से नाराज भारत की तरफ से मंगलवार तड़के PoK में जैश के प्रमुख ठिकाने पर कार्रवाई कर दी गई. भारतीय वायुसेना की तरफ से की गई इस 'हवाई स्‍ट्राइक' में पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में चल रहे जैश के आतंकी कैंपों को निशाना बनाते हुए बमबारी की गई की गई. इस 'सर्जिकल स्‍ट्राइक' को लेकर भारतीय सेना और भारतीय वायुसेना कुछ समय बाद एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करेंगे और जानकारी साझा करेंगे.

सूत्रों की मानें तो भारतीय वायुसना के 12 मिराज-2000 लड़ाक विमानों ने जैश के आंतकी ठिकानों पर 1000 किलो से ज्यादा विस्फोटक गिराए. इन विस्‍फोटकों ने जैश के ठिकानों को तबाह कर दिया.