close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अगर सरकार ने इस्तीफा देने से किया इंकार तो पाकिस्तान में अराजकता का माहौल होगा पैदा : मौलाना फजलुर रहमान

मौलाना फजलुर रहमान कहना है कि इमरान सरकार को भ्रष्ट तरीके से सत्तारूढ़ कराया गया था. इमरान सरकार को जनादेश नहीं हासिल है. जबकि प्रधानमंत्री इमरान खान(Imran Khan) ने साफ कर दिया है कि उनके इस्तीफा देने का कोई सवाल ही पैदा नहीं होता.

अगर सरकार ने इस्तीफा देने से किया इंकार तो पाकिस्तान में अराजकता का माहौल होगा पैदा : मौलाना फजलुर रहमान
फाइल फोटो

इस्लामाबाद : जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम-फजल (जेयूआई-एफ) के नेता मौलाना फजलुर रहमान(Maulana Fazlur Rahman) के नेतृत्व में विपक्ष का 'आजादी मार्च' इस्लामाबाद(Islamabad) पहुंच गया है. विपक्ष प्रधानमंत्री इमरान खान की पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) सरकार को बर्खास्त करने की मांग कर रहा है. डॉन न्यूज ने यह जानकारी दी. आज न्यूज को दिए एक एक्सक्लूजिव इंटरव्यू में रहमान ने कहा, "यह निर्णय जनता करेगी कि हमारी आगे की रणनीति क्या होनी चाहिए."

राजधानी में जुलूस की अगुआई कर रहे मौलाना फजलुर रहमान ने कहा कि उनकी पार्टी द्वारा पीटीआई सरकार को दिया गया समय खत्म हो गया है. उनका कहना है कि इमरान सरकार को भ्रष्ट तरीके से सत्तारूढ़ कराया गया था. इमरान सरकार को जनादेश नहीं हासिल है. जबकि प्रधानमंत्री इमरान खान(Imran Khan) ने साफ कर दिया है कि उनके इस्तीफा देने का कोई सवाल ही पैदा नहीं होता.

LIVE TV...

उन्होंने कहा कि उनके आजादी मार्च के बाद अगर पीटीआई सरकार ने इस्तीफा देने से इंकार कर दिया तो देश में अराजकता का माहौल पैदा हो जाएगा. उन्होंने आज न्यूज को बताया, "हमें आखिर में उनसे (सरकार) इस्तीफा लेना है. और हम इसके लिए जंग करके रहेंगे." धरने का संकेत देते हुए कहा कि पार्टी इस्लामाबाद में बैठकर सरकार को दो-तीन दिन का समय देना चाहती है.

डॉन न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) चेयरमैन बिलावल भुट्टो जरदारी ने गुरुवार सुबह जूलूस वालों से मुलाकात कर उन्हें संबोधित किया. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान को यह संदेश देने के लिए सभी विपक्षी दल एक मंच पर आ गए हैं कि उनकी सरकार के गिरने का समय आ गया है.