इमरान ने चुनाव आयोग से छुपाए 23 बैंक खाते और लाखों डॉलर, चीन से 18 नहीं बल्कि 5.8 अरब डॉलर का लिया था कर्ज

पाकिस्तान सरकार गलतबयानी कर रही है कि चीन (China) से सीपीईसी के लिए 18 अरब डॉलर का कर्ज लिया गया था. यह कर्ज 18 नहीं बल्कि 5.8 अरब डॉलर का है 

इमरान ने चुनाव आयोग से छुपाए 23 बैंक खाते और लाखों डॉलर, चीन से 18 नहीं बल्कि 5.8 अरब डॉलर का लिया था कर्ज
फाइल फोटो

लाहौर: पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) के महासचिव अहसन इकबाल ने आरोप लगाया है कि प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने चुनाव आयोग से अपने 23 बैंका खातों और लाखों डॉलर की जानकारी छुपाई थी. उन्होंने कहा कि देश इस बारे में मुकम्मल जानकारी चाहता है. पाकिस्तानी मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, इकबाल ने कहा, "इमरान को ऐसा नहीं करना चाहिए. इसके बजाए उन्हें इन खातों और रुपयों की रसीद देश के सामने रखनी चाहिए. देश जानना चाहता है कि उन्होंने चुनाव आयोग से इन खातों की जानकारी क्यों छुपाई? उन्हें उन लाखों डॉलर के लिए जवाबदेह ठहराया जाना चाहिए जो उन्होंने लिए हैं."

LIVE TV...

उन्होंने इमरान पर निशाना साधते हुए कहा, "जो शख्स दूसरों को चोर कहता था, वह खुद चोर निकला. अब इमरान को भी जवाबदेही की प्रक्रिया से गुजरना होगा." इकबाल ने चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) को लेकर जारी विवाद पर कहा कि इमरान की पाकिस्तान (Pakistan) तहरीके इंसाफ पार्टी के नेताओं के परस्पर विरोधी गैरजिम्मेदाराना बयानों की वजह से यह नौबत आई है. 

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान सरकार गलतबयानी कर रही है कि चीन (China) से सीपीईसी के लिए 18 अरब डॉलर का कर्ज लिया गया था. यह कर्ज 18 नहीं बल्कि 5.8 अरब डॉलर का है और साथ ही सभी उर्जा परियोजनाएं निवेश के रूप में हैं. गौरतलब है कि सीपीईसी की शुरुआत पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के शासनकाल में हुई थी.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.