Pakistan में Saad Rizvi की गिरफ्तारी से बिगड़े हालात, Viral Video में सैनिक ने Imran Khan को दी चेतावनी

पैगंबर मोहम्मद के विवादित चित्र के मुद्दे पर पाकिस्तानी कट्टरपंथी एकजुट हो गए हैं. उनकी मांग है कि फ्रांस के राजदूत को तुरंत वापस भेजा जाए. दरअसल, पिछले साल हुए प्रदर्शनों को शांत करने के लिए इमरान खान ने राजदूत को वापस भेजे जाने पर सहमति जताई थी, लेकिन उन्होंने इस पर अमल नहीं किया.  

Pakistan में Saad Rizvi की गिरफ्तारी से बिगड़े हालात, Viral Video में सैनिक ने Imran Khan को दी चेतावनी
पाकिस्तान के सुरक्षा बलों के लिए प्रदर्शनकारियों को काबू करना मुश्किल हो रहा है (फोटो: PTI)

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं. कट्टरपंथी संगठन तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (Tehreek-e-Labbaik Pakistan-TLP) के समर्थन में जगह-जगह प्रदर्शन हो रहे हैं. खान को उम्मीद थी कि संगठन प्रमुख साद रिजवी (Saad Rizvi) की गिरफ्तारी के बाद हालात सुधर जाएंगे, लेकिन उनका यह दांव उल्टा पड़ गया है. बड़ी संख्या में सड़कों पर उतरकर लोग प्रदर्शन कर रहे हैं. रिजवी ने सरकार को धमकी देते हुए कहा था कि यदि फ्रांस के राजदूत को देश से नहीं निकाला गया तो इसके विरोध में प्रदर्शन किए जाएंगे.  

इस वजह से हो रहे Protest

पैगंबर मोहम्मद के विवादित चित्र के मुद्दे पर पाकिस्तानी कट्टरपंथी एकजुट हो गए हैं. उनकी मांग है कि फ्रांस के राजदूत (French Diplomat) को तुरंत वापस भेजा जाए. दरअसल, पिछले साल हुए प्रदर्शनों को शांत करने के लिए इमरान खान ने राजदूत को वापस भेजे जाने पर सहमति जताई थी, लेकिन उन्होंने इस पर अमल नहीं किया. इसी को लेकर कट्टरपंथियों ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. तहरीक-ए-लब्बैक के प्रमुख की गिरफ्तारी से स्थिति और बिगड़ गई है. कहा तो यहां तक जा रहा है कि पुलिस और सेना (Pakistani Police and Army) भी इस मुद्दे पर सरकार के खिलाफ है.  

ये भी पढ़ें -Pakistan में महंगाई से हाहाकार, चीनी का रेट 100 रुपये प्रति किलो के पार, विपक्ष ने कसा तंज

Viral Videos में बड़े-बड़े दावे  

सोशल मीडिया पर ऐसे कई वीडियो सामने आए हैं, जिनमें कहीं पुलिस तो कहीं पाकिस्तान की सेना का इस विरोध-प्रदर्शन का समर्थन करने का दावा किया जा रहा है. ऐसे ही एक वीडियो में पाकिस्तान सेना का जवान प्रधानमंत्री इमरान खान को चेतावनी देता दिख रहा है. वह चीफ ऑफ स्टाफ से अपील करता है कि सरकार को रोका जाए वरना पाकिस्तानी सेना के अंदर चिंगारी भड़केगी और फिर तहरीक-ए-इंसाफ और इमरान का नाम लेने वाला कोई नहीं होगा. वीडियो में सैनिक ने फ्रांसीसी राजदूत को देश से बाहर निकालने और रिजवी आजादी की मांग की है. हालांकि, इस वीडियो की अब तक पुष्टि नहीं की गई है.

Imran के लिए अच्छे संकेत नहीं

एक अन्य वीडियो में दावा किया गया है कि कुछ पुलिसकर्मी इमरान सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए TLP के विरोध-प्रदर्शन में शामिल हो गए हैं. इन वीडियो और दावों में कितनी सच्चाई है ये तो फिलहाल कहना मुश्किल है, लेकिन ये एक तरह से संकेत हैं कि आन वाले दिन प्रधानमंत्री इमरान खान के लिए और भी ज्यादा मुश्किल भरे होने वाले हैं. वहीं, खबर है कि प्रदर्शनकारियों ने वरिष्ठ पुलिस अधिकारी उमर फारूक बलोच को बंधक बनाकर उनके साथ मारपीट की है. बलोच अभी भी प्रदर्शनकारियों के कब्जे में हैं और उन्हें छुड़ाने के लिए बातचीत चल रही है.

VIDEO

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.