Zee Rozgar Samachar

Imran Khan के इशारे पर PDM प्रमुख Fazlur Rehman के खिलाफ जांच शुरू, संपत्ति का मांगा हिसाब

पाकिस्तान की जांच एजेंसी ने फजलुर रहमान (Fazlur Rehman) को नोटिस भेजकर 28 दिंसबर तक आय, चल-अचल संपत्ति, पैतृक संपत्ति के बारे में पूरी जानकारी देने को कहा है. इसके अलावा, एक अन्य मामले में भी उनके खिलाफ जांच तेज कर दी गई है.  

Imran Khan के इशारे पर PDM प्रमुख Fazlur Rehman के खिलाफ जांच शुरू, संपत्ति का मांगा हिसाब
फाइल फोटो

इस्लामाबाद: विपक्ष के हल्ला बोल से घबराए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) उसे कमजोर करने की साजिश रचने में लगे हैं. पहले उन्होंने 11 विपक्षी दलों के गठबंधन पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (PDM) की रैली को रोकने के लिए कोरोना वायरस (CoronaVirus) के नाम पर लॉकडाउन (Lockdown) लगा दिया और अब PDM प्रमुख मौलाना फजलुर रहमान (Fazlur Rehman) की संपत्ति की जांच शुरू कर दी है. माना जा रहा है कि कुछ अन्य नेताओं को भी जांच के दायरे में लाया जाएगा, ताकि इमरान विपक्ष को अंदर तक चोट पहुंचा सकें.

बौखला गए हैं Imran Khan

इमरान खान (Imran Khan) विपक्ष की रैलियों में उमड़ी जबर्दस्त भीड़ से बौखला गए हैं. उन्हें लगने लगा है कि आने वाले समय में उनका प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बने रहना मुश्किल हो जाएगा, इसलिए वो विपक्ष को कमजोर करने के लिए हर रोज कोई न कोई नई चाल चल देते हैं. इसी क्रम में, पीडीएम प्रमुख फजलुर रहमान (Fazlur Rehman) के खिलाफ राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (NAB) ने जांच शुरू कर दी है. एनएबी ने रहमान से 28 दिंसबर तक उनकी आय, चल-अचल संपत्ति, पैतृक संपत्ति के बारे में पूरी जानकारी दिए जाने का नोटिस भेजा है। 

VIDEO

जमीन के मामले में भी जांच तेज
NAB ने रहमान से बैंक अकाउंट, आय के स्त्रोत और बेची गई संपत्तियों का ब्योरा भी मांगा है. इतना ही नहीं, एनएबी ने रहमान की 64 कनाल सरकारी जमीन की जांच भी तेज कर दी है. यह जमीन पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के कार्यकाल में दी गई थी. रहमान पर आरोप है कि उन्होंने महंगी जमीन को सस्ती दर पर ले लिया था. वहीं, रहमान ने आरोपों को गलत बताते हुए कहा है कि सच्चाई जल्द सामने आ जाएगी. उन्होंने कहा कि सरकार मेरे खिलाफ साजिश रच रही है, मुझ पर लगाए गए आरोप बेबुनियाद हैं. इस जांच से उसे कुछ हासिल नहीं होगा. 

ये भी पढ़ें - Saudi Arabia ने भारतीय अर्थव्यवस्था को बताया मजबूत, कहा – 'निवेश की योजनाएं नहीं होंगी प्रभावित' 

Nawaz Sharif पर कसा शिकंजा

इमरान सरकार ने नवाज शरीफ के प्रत्यर्पण के लिए भी ब्रिटेन के साथ कानूनी प्रक्रिया शुरू कर दी है. पाकिस्तान के सूचना मंत्री शिबली फराज के मुताबिक, प्रक्रिया के शुरू होने के बाद नवाज को देश लाने का रास्ता साफ होगा. गौरतलब है किपाकिस्‍तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ इन दिनों लंदन में निर्वासन में रह रहे हैं. इसी महीने पाकिस्तान की एक अदालत ने उन्‍हें भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना करने के लिए वापस नहीं लौटने पर भगोड़ा घोषित कर दिया था.

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.