close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भारतीय राजनायिकों को परेशान करने से बाज नहीं आ रहा है पाकिस्तान, अब किया पीछा

1 जून को भारतीय उच्‍चायोग की ओर से एक होटल में इफ्तार पार्टी आयोजित की गई थी. लेकिन वहां पहुंचे भारतीय मेहमानों के साथ पाकिस्‍तानी सुरक्षाबलों ने बदसलूकी की और कई के साथ तो मारपीट भी की गई.

भारतीय राजनायिकों को परेशान करने से बाज नहीं आ रहा है पाकिस्तान, अब किया पीछा
फोटो सौजन्य: ANI

नई दिल्लीः पाकिस्तान में भारतीय राजनायिकों का उत्पीड़न जारी है. पाकिस्तान में भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसरिया का पीछा किए जाने का मामला सामने आया है. पाकिस्तान में लगातार एक महीने के भीतर ऐसी 6 घटनाएं सामने आई है. पाकिस्तान में भारतीय उच्चायोग द्वारा आयोजित इफ्तार में अतिथि के उत्पीड़न की पहली जून की घटना के कुछ दिनों बाद भारतीय राजनायिकों के उत्पीड़न के 6 मामले सामने आ चुके हैं. ऐसे ही एक मामला 13 जून का है जिसमें भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया की गाड़ी का कुछ लोगों द्वारा पीछा किया गया. 

पाकिस्तान के खैबर पख्तूनवा प्रांत के हिल स्टेशन नाथिया गली में भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया की गाड़ी का पीछा करने की बात सामने आई है. इस मामले में भारत ने 20 जून को इस्लामाबाद को नोट वर्बल भेजा है. 

बता दें कि 1 जून को भारतीय उच्‍चायोग की ओर से एक होटल में इफ्तार पार्टी आयोजित की गई थी. लेकिन वहां पहुंचे भारतीय मेहमानों के साथ पाकिस्‍तानी सुरक्षाबलों ने बदसलूकी की और कई के साथ तो मारपीट भी की गई. उच्‍चायोग की ओर से ये इफ्तार पार्टी इस्‍लामाबाद के सेरेना होटल में दी गई थी.

इसी में आए भारतीय मेहमानों के साथ बदसलूकी की गई. कई मेहमानों को तो बीच रास्‍ते में ही वापस लौटा दिया गया. कई मेहमानों की कारों को उठा लिया गया. पाकिस्‍तानी एजेंसियों ने पार्टी में आए मेहमानों से लौट जाने को कहा. भारतीय अधिकारियों ने यहां आए मेहमानों से इस घटना के लिए माफी मांगी है. भारतीय उच्‍चायुक्‍त अजय‍ बि‍सारिया ने कहा, मैं इस पूरे घटनाक्रम के लिए मेहमानों से माफी मांगी है.

ये पहला मौका नहीं है, जब पाकिस्‍तान ने अपने घर में इस तरह की हरकत की है. इससे पहले भी पाकिस्‍तानी में स्‍थ‍ित भारतीय दूतावास के अफसरों और कर्मचारियों से बदसलूकी का मामला सामने आया था.पाकिस्‍तान में भारतीय उच्‍चायोग द्वारा इफ्तार पार्टी के आयोजन का सिलसिला करीब 12 साल पहले सिबी जॉर्ज ने शुरू किया था. जॉर्ज अभी स्‍व‍िट्जरलैंड में भारतीय राजदूत हैं. 1992 के कोड ऑफ कंडक्‍ट के अनुसार दोनों देशों में डिप्‍लोमेटिक पर्सनल और उनके परिवारों को पूरी सुरक्षा दी जाएगी.