close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पाकिस्तान की धरती से कांग्रेस नेता सिद्धू ने फिर की इमरान खान की तारीफ

सिद्धू ने कहा, 'यह पहला मौका है जब दोनों देशों के बीच बंटवारे के बाद दीवारें गिरी हैं. इसके लिए मेरे दोस्त इमरान खान (Imran khan) के योगदान को कोई नकार नहीं सकता. मैं मोदी जी को भी इसके लिए धन्यवाद देता हूं.'

पाकिस्तान की धरती से कांग्रेस नेता सिद्धू ने फिर की इमरान खान की तारीफ
कांग्रेस विधायक और पंजाब के पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू करतारपुर कॉरिडोर के माध्यम से पाकिस्तान के करतारपुर साहिब गुरुद्वारे की यात्रा पर गए हैं.

लाहौर: कांग्रेस विधायक और पंजाब के पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot singh sidhu) शनिवार को पाकिस्तान के ऐतिहासिक करतारपुर साहिब गुरुद्वारे में मत्था टेकने के लिए यहां पहुंचे. पाकिस्तान की धरती से नवजोत सिद्धू ने वहां के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran khan) की तारीफ की है. सिद्धू ने कहा, 'यह पहला मौका है जब दोनों देशों के बीच बंटवारे के बाद दीवारें गिरी हैं. इसके लिए मेरे दोस्त इमरान खान (Imran khan) के योगदान को कोई नकार नहीं सकता. मैं मोदी जी को भी इसके लिए धन्यवाद देता हूं.'

इससे पहले सिद्धू करतारपुर जाने के लिए अन्य लोगों के साथ इंटीग्रेटेड चेक प्वाइंट की ओर बढ़े. सिद्धू को सरकार ने सिख 'जत्था' के साथ अनुमति दी थी जो कि करतारपुर कॉरिडोर के माध्यम से पाकिस्तान के करतारपुर साहिब गुरुद्वारे की यात्रा पर गए हैं. हालांकि, विदेश मंत्रालय ने सिद्धू को वाघा से होकर पाकिस्तान जाने की अनुमति नहीं दी थी. पाकिस्तान ने सिद्धू को इस आयोजन के लिए पहला निमंत्रण दिया था और उन्हें वीजा भी दिया था.

'जत्था' पाकिस्तान के सिख धार्मिक समुदाय के पवित्र तीर्थस्थल करतारपुर साहिब गुरुद्वारे की यात्रा कॉरिडोर के जरिए करेगा, जिसका प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को उद्घाटन किया.

ये वीडियो भी देखें:

माना जाता है कि करतारपुर साहिब गुरुद्वारा, जिसे दरबार साहिब गुरुद्वारा भी कहा जाता है, का निर्माण उस स्थान पर किया गया था जहां गुरु नानक की मृत्यु 16वीं शताब्दी में हुई थी. इसे 4.2 किलोमीटर लंबे करतारपुर साहिब कॉरिडोर से जोड़ा जाने वाला है.

गलियारे का उद्घाटन करने के बाद, मोदी 12 नवंबर को पड़ने वाले गुरु नानक देव की 550वीं जयंती समारोह के अवसर पर पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में दरबार साहिब गुरुद्वारा जाने वाले तीर्थयात्रियों के पहले जत्थे को रवाना करेंगे.

यहां आपको बता दें कि नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot singh sidhu) जब इमरान खान (Imran khan) के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने पाकिस्तान पहुंचे थे तब उन्होंने उनकी तारीफ की थी. इस यात्रा के दौरान पाकिस्तानी आर्मी चीफ जनरल बाजवा और खालिस्तान समर्थक गोपाल चावला के साथ उनकी तस्वीर सामने आने पर भी काफी विवाद हुआ था. इसके बाद पाकिस्तानी वायुसेना की घुसपैठ को नाकाम करने के दौरान पाकिस्तान की सीमा में चले गए अभिनंदन को जब वहां से भारत भेजा गया था तब भी सिद्धू ने इमरान खान (Imran khan) की तारीफ की थी. इसके अलावा कई बार टीवी चैनलों पर सिद्धू पाकिस्तान और इमरान खान (Imran khan) के साथ बातचीत शुरू करने की बात कह चुके हैं.