close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

नवाजी शरीफ की बॉडी में मात्र 15,000 प्लेटलेट्स बचे, हालत स्थिर होने का किया जा रहा दावा

पीएमएल-एन के अध्यक्ष शाहबाज शरीफ ने बताया, 'हम (शरीफ परिवार) और डॉक्टर इस बात से बहुत चिंतित हैं कि (नवाज) के प्लेटलेट्स 15,000 के स्तर तक पहुंच गए, जबकि सामान्य स्तर 150,000 से 400,000 है.' 

नवाजी शरीफ की बॉडी में मात्र 15,000 प्लेटलेट्स बचे, हालत स्थिर होने का किया जा रहा दावा
सजा काट रहे पाक के पूर्व पीएम की तबीयत बिगड़ी.

लाहौर: पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) की तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया. अस्पताल के लेटेस्ट मेडिकल बुलेटिन के मुताबिक नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) की हालत स्थिर बनी हुई है. पीएमएल-एन के अध्यक्ष शाहबाज शरीफ ने बताया, 'हम (शरीफ परिवार) और डॉक्टर इस बात से बहुत चिंतित हैं कि (नवाज) के प्लेटलेट्स 15,000 के स्तर तक पहुंच गए, जबकि सामान्य स्तर 150,000 से 400,000 है.' स्थानीय अखबार डॉन की रिपोर्ट के अनुसार, लाहौर स्थित नेशनल अकाउंटिबिलिटी ब्यूरो ने नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) को सोमवार रात मेडिकल जांच के लिए सर्विसेज हॉस्पिटल में भर्ती कराने का फैसला किया.

शरीफ के निजी फिजीशियन अदनान खान ने सोमवार को इससे पहले उनकी बिगड़ती सेहत के संबंध में सतर्क करते हुए पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ सरकार से उन्हें तत्काल अस्पताल में भर्ती कराने का आग्रह किया था. खान की चेतावनी के बाद पाकिस्तान मुस्लिम लीग- नवाज (पीएमएल-एन) के अध्यक्ष शाहबाज शरीफ ने भी बयान जारी कर पंजाब सरकार से अपने भाई को बिना किसी विलंब के अस्पताल में भर्ती कराने का आग्रह किया था.

लाइव टीवी देखें-:

शाहबाज ने कहा, 'सरकार द्वारा दी गई शरीफ की मेडिकल रिपोर्ट के अनुसार उनकी तबियत बहुत खराब है. यह पीटीआई सरकार का उदासीन रवैया है कि शरीफ की बिगड़ती हालत के बावजूद उन्हें अस्पताल में भर्ती नहीं कराया जा रहा है.' पीएमएल-एन की प्रवक्ता मरियम औरंगजेब ने कहा कि हालिया मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार शरीफ की तबियत बहुत खराब है और उन्हें तत्काल अस्पताल में भर्ती किए जाने की जरूरत है. उन्होंने प्रधानमंत्री इमरान खान को चेतावनी दी कि अगर उनके भाई के साथ कुछ गलत हुआ तो वे परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहें.

उन्होंने कहा, 'नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) को इलाज उपलब्ध ना कराकर इमरान खान अपनी अयोग्यता और झूठ छिपा नहीं सकते.' चौधरी शुगर मिल मामले में गिरफ्तार किए जाने के बाद पूर्व प्रधानमंत्री को कोट लखपत जेल से एनएबी की लाहौर स्थित इमारत में भेज दिया गया है. ब्यूरो के पास शुक्रवार तक उनकी रिमांड है. शरीफ अल-अजीजिया मामले में यहां सात साल कारावास की सजा काट रहे हैं.