close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पाकिस्‍तान के गृह मंत्री ने इमरान खान को किया बेनकाब, कश्‍मीर पर झूठ का किया पर्दाफाश

भारत के खिलाफ हर मोर्चे पर फजीहत झेलने वाला पाकिस्‍तान (Pakistan) भले ही अपनी जनता को ये झूठा दिलासा दे रहा हो कि वह कश्‍मीर के मुद्दे पर अंतरराष्‍ट्रीय जगत का ध्‍यान खींचने में सफल रहा लेकिन गृह मंत्री एजाज अहमद शाह ने इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री इमरान खान को कठघरे में खड़ा किया है.

पाकिस्‍तान के गृह मंत्री ने इमरान खान को किया बेनकाब, कश्‍मीर पर झूठ का किया पर्दाफाश
एक टॉक शो में पाकिस्‍तान के गृह मंत्री एजाज अहमद शाह (बाएं) ने ये बात कही.

इस्‍लामाबाद: भारत के खिलाफ हर मोर्चे पर फजीहत झेलने वाला पाकिस्‍तान (Pakistan) भले ही अपनी जनता को ये झूठा दिलासा दे रहा हो कि वह कश्‍मीर के मुद्दे पर अंतरराष्‍ट्रीय जगत का ध्‍यान खींचने में सफल रहा लेकिन गृह मंत्री एजाज अहमद शाह ने इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री इमरान खान को कठघरे में खड़ा किया है. उन्‍होंने कश्‍मीर मुद्दे पर पाकिस्‍तान सरकार की विफलता के लिए इमरान खान और उनके सिपहसालारों को जिम्‍मेदार ठहराया है. दरअसल उन्‍होंने स्‍वीकार किया है कि कश्‍मीर मुद्दे पर इस्‍लामाबाद अंतरराष्‍ट्रीय समुदाय का समर्थन हासिल करने में नाकाम रहा. शाह ने इमरान खान समेत सत्‍ताधारी कुलीनतंत्र (Ruling Elite) पर पाकिस्‍तान की इमेज को बर्बाद करने का आरोप लगाया.

उन्‍होंने पाकिस्‍तानी न्‍यूज चैनल Hum News के एक टॉक शो में कहा, ''अंतरराष्‍ट्रीय समुदाय में लोगों ने हम पर यकीन नहीं किया. हमने कहा कि भारत ने जम्‍मू और कश्‍मीर में कर्फ्यू लगा दिया है और लोगों को दवाएं तक नहीं मिल रही हैं. लोगों ने हम पर यकीन नहीं किया लेकिन उनकी (भारत) बात पर भरोसा किया. सत्‍ताधारी कुलीनतंत्र ने देश को बर्बाद कर दिया. इसकी छवि को खराब कर दिया गया. लोग सोचते हैं कि हम गंभीर मुल्‍क नहीं हैं.''

LIVE TV

PAK का कश्‍मीर पर UNHRC में 15 मिनट 49 सेकंड का झूठ, 115 पेज की रिपोर्ट

उनसे जब पूछा गया कि बेनजीर भुट्टो, परवेज मुशर्रफ और अन्‍य क्‍या उस सत्‍ताधारी कुलीनतंत्र का हिस्‍सा रहे हैं तो ISI के चीफ रहे एजाज अहमद शाह ने कहा, ''सभी जिम्‍मेदार हैं. पाकिस्‍तान को अब आत्‍ममंथन करने की दरकार है.'' शाह का बयान ऐसे वक्‍त आया है जब जेनेवा में संयुक्‍त राष्‍ट्र मानवाधिकार परिषद (UNHRC) के 42वें सत्र की बैठक में भारत के कूटनीति के सामने पाकिस्‍तान को एक बार फिर मुंह की खानी पड़ी है.

UNHRC में भारत का पाकिस्तान को करारा जवाब, कहा - कश्मीर पर PAK ने सिर्फ झूठ बोला

UNHRC में पाकिस्‍तान की नाकामी
जेनेवा में पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि भारत ने कश्‍मीर पर गैर-कानूनी तरीके से कब्‍जा कर रखा है. वहां मानवाधिकारों का हनन किया जा रहा है. पूरे कश्‍मीर को जेल बनाकर रख दिया गया है. यहां तक कि आपातकालीन मेडिकल सुविधाएं नहीं प्रदान की जा रही हैं. उन्‍होंने कई विदेशी मीडिया अखबारों की रिपोर्ट का उद्धरण भी दिया. उन्‍होंने ये भी कहा कि इन वजहों से कश्‍मीर का मुद्दा भारत का आंतरिक मसला नहीं है बल्कि ये अंतरराष्‍ट्रीय मसला है. हालांकि उसके बाद शाह महमूद कुरैशी ने पत्रकारों से बात करते हुए पाकिस्‍तान के रुख से इतर कश्‍मीर को 'भारत का जम्‍मू और कश्‍मीर' राज्‍य कहा. पाकिस्‍तान अब तक कश्‍मीर को 'भारत अधिकृत कश्‍मीर' बताता रहा है.

UNHRC की बैठक के बाद PAK के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कबूला, J&K भारत का अभिन्न अंग

उसके बाद संयुक्‍त राष्‍ट्र मानवाधिकार परिषद (UNHRC) में भारत की ओर सेक्रेटरी ईस्ट विजय ठाकुर सिंह ने पाकिस्तान को करारा जवाब दिया. ठाकुर ने कहा, "कश्मीर पर पाकिस्तान ने सिर्फ झूठ बोला है. जम्मू-कश्मीर हमारा आंतरिक मसला है, बाहरी दखल बर्दाश्त नहीं. कश्मीर में हालात सामान्य हो रहे हैं. जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 (Article 370) को हटाने के फैसले को भारी समर्थन मिला है. संसद में बहस के बाद 370 हटाया. आतंकवाद पर निर्णय की कार्रवाई का वक्त है. पाकिस्तान अपनी जमीन पर आतंकी संगठनों पर सख्त कार्रवाई करे."  भारत ने कहा, "मानवाधिकार पर पाकिस्तान के आरोप बेबुनियाद हैं. पाकिस्तान आतंक का केंद्र है, पाकिस्तान आतंकवादियों पर कार्रवाई करे. कश्मीर में हालात सामान्य हो रहे है, पाबंदी धीरे-धीरे हटेगी."