पाकिस्तान ने स्वीकारा भारतीय फाइटर प्लेन ने क्रॉस की LOC, तबाही पर साधी चुप्पी

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता ने ट्वीट कर कहा, 'भारतीय वायुसेना ने मुजफ्फराबाद सेक्टर से LOC क्रॉस करने की कोशिश की. पाकिस्तानी सेना की ओर से समय रहते जवाबी कार्रवाई किया गया. इस घटना में किसी तरह का नुकसान नहीं हुआ है.'

पाकिस्तान ने स्वीकारा भारतीय फाइटर प्लेन ने क्रॉस की LOC, तबाही पर साधी चुप्पी
पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट कर दी जानकारी.
Play

नई दिल्ली: भारतीय एयरफोर्स ने LOC को क्रॉस करके जैश ए मोहम्मद के कई ट्रेनिंग कैंप को तबाह कर दिया है. पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने भी ट्वीट कर भारतीय एयरफोर्स के LOC क्रॉस करने की बात कबूल की है. हालांकि पाकिस्तान ने तबाही पर चुप्पी साध ली है. भारतीय सेना की ओर से इस पर अभी तक कोई भी आधिकारिक बयान नहीं आया है. पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता ने ट्वीट कर कहा, 'भारतीय वायुसेना ने मुजफ्फराबाद सेक्टर से LOC क्रॉस करने की कोशिश की. पाकिस्तानी सेना की ओर से समय रहते जवाबी कार्रवाई किया गया. इस घटना में किसी तरह का नुकसान नहीं हुआ है.'

वहीं भारतीय सेना से जुड़े सूत्रों का कहना है कि भारतीय वायुसेना ने 12 'मिराज 2000' (Mirage 2000) फाइटर प्लेन LOC क्रॉस करके पाकिस्तानी सीमा में दाखिल हुए और ताबड़तोड़ 1000 से ज्यादा बम गिराए. इस कार्रवाई में जैश ए मोहम्मद के कई ट्रेनिंग कैंप तबाह हो गए हैं. बताया जा रहा है कि पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान ने आतंकियों के कैंप को भारतीय सीमा से पीछे कर लिया था, जिसके चलते भारतीय वायुसेना ने फाइटर प्लेन की मदद से उन्हें तबाह किया है.

गौर करने वाली बात यह है कि भारतीय वायुसेना ने केवल आतंकी ठिकानों पर कार्रवाई की है. इसमें पाकिस्तानी सेना या वहां के आम नागरिक को किसी भी तरह का नुकसान नहीं पहुंचाया गया है.

मालूम हो कि पुलवामा में आतंकी हमले में CRPF के 40 जवान शहीद हो गए थे. इसके बाद पुलवामा हमले के मास्टरमाइंड को मार गिराने के दौरान हुए ऑपरेशन में भी पांच जवान शहीद हुए थे. इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साफ तौर से कहा था कि सेना के पास कार्रवाई करने की पूरी छूट है.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.