महिला सुरक्षा के मामले में पाकिस्तान निचले स्तर पर, 2019 में सामने आए इतने रेप केस

आंकड़ों से खुलासा हुआ है कि 2013 में 325 दुष्कर्म के मामले, 2014 में 324, 2015 में 342, 2016 में 360, 2017 में 331, 2018 में 411 और बीते साल 407 दुष्कर्म के मामले सामने आए हैं. 

महिला सुरक्षा के मामले में पाकिस्तान निचले स्तर पर, 2019 में सामने आए इतने रेप केस
फाइल फोटो

कराची: पाकिस्तान (Pakistan) के कराची (Karachi) में 2019 में प्रमुख तीन अस्पतालों में यौन उत्पीड़न के 545 मामले सामने आए हैं. तीनों अस्पतालों के आंकड़ों में यह बात सामने आई है कि 407 महिलाएं दुष्कर्म का शिकार हुईं जबकि 138 महिलाएं साल में सोडोमी का शिकार हुईं. डॉन को रविवार को मिले आंकड़ों के अनुसार, 417 यौन उत्पीड़न के उक्त संदिग्धों को जिन्ना पोस्टग्रेजुएट मेडिकल सेंटर, डॉ रुथ फाउ सिविल अस्पताल कराची और अब्बासी शहीद अस्पताल में मेडिकल जांच के लिए लाया गया.

साल 2019 के पुलिस सर्जन के आंकड़ों में यौन उत्पीड़न के पीड़ितों की उम्र नहीं दी गई है. पुलिस सर्जन डॉ करार अहमद अब्बासी ने कहा, "महानगरों में पहले की तुलना में धीरे-धीरे यौन उत्पीड़न के मामले बढ़ गए हैं." तीनों अस्पतालों के आंकड़ों से पता चलता है कि शहर में 2013 से 2019 के बीच 2,500 दुष्कर्म के मामले व 593 सोडोमी के मामले सामने आए हैं.

आंकड़ों से खुलासा हुआ है कि 2013 में 325 दुष्कर्म के मामले, 2014 में 324, 2015 में 342, 2016 में 360, 2017 में 331, 2018 में 411 और बीते साल 407 दुष्कर्म के मामले सामने आए हैं. दुष्कर्म (Rape) के इन मामलों में 1709 संदिग्धों व सोडोमी मामले में 454 संदिग्धों को अस्पताल में मेडिकल जांच के लिए लाया गया है.

ये भी देखें:-