close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दाऊद के समधी क्रिकेटर ने 33 साल पहले दिया था जख्म, अब जम्मू-कश्मीर में फैलाना चाहता है आग

 पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान सरफराज अहमद, शाहिद अफरीदी और शोएब अख्तर के बाद जावेद मियांदाद (Javed Miandad) ने जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के लोगों को उकसाने के मिशन में जुट गए हैं.

दाऊद के समधी क्रिकेटर ने 33 साल पहले दिया था जख्म, अब जम्मू-कश्मीर में फैलाना चाहता है आग
पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर जावेद मियांदाद पाक पीएम इमरान खान के अच्छे दोस्त माने जाते हैं. तस्वीर साभार- फेसबुक

कराची: जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) में धारा 370 और 35ए निष्क्रिय होने के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के मसले को लेकर दुनियाभर के देशों के पास गए, लेकिन सभी ने उन्हें दुत्कार दिया. इसके बाद पाकिस्तानी क्रिकेटरों के जरिए वह जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) को अशांत करने में लगे हैं. पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान सरफराज अहमद (Sarfaraz Ahmed), शाहिद अफरीदी और शोएब अख्तर के बाद जावेद मियांदाद (Javed Miandad) ने जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के लोगों को उकसाने के मिशन में जुट गए हैं.

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के रिश्ते में समधी लगने वाले जावेद मियांदाद (Javed Miandad) ने पाकिस्तान के कब्जे वाले जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के लोगों को भारत के खिलाफ भड़काने का फैसला लिया है. यहां आपको बता दें कि जावेद मियांदाद (Javed Miandad) वही क्रिकेटर हैं जिन्होंने 33 साल पहले हर भारतीय के चेहरे पर मायूसी ला दी थी. साल 1986 में शारजाह क्रिकेट स्टेडियम में पाकिस्तानी बल्लेबाज जावेद मियांदाद (Javed Miandad) ने भारत के बॉलर चेतन शर्मा के ओवर की आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर पाकिस्तान को ना केवल शानदार जीत दिलाई बल्कि पाकिस्तान को एशिया कप का खिताब भी दिलाया. क्रिकेट इतिहास का वह पल आज भी हर भारतीय क्रिकेट प्रेमियों को चुभता है.

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान व विवादास्पद बयानों के लिए चर्चा में रहने वाले जावेद मियांदाद (Javed Miandad) ने कहा है कि वह कश्मीरी अवाम के साथ एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए नियंत्रण रेखा (LOC) का दौरा करेंगे. पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, मियांदाद (62) ने कहा है कि 'कश्मीर को कोई भी पाकिस्तान से अलग नहीं कर सकता' और कश्मीरियों को उनके अधिकार मिलने चाहिए. उन्होंने कहा कि वह 'घाटी में भारतीय उत्पीड़न के खिलाफ' प्रदर्शन करेंगे.

लाइव टीवी देखें-:

उन्होंने सोशल मीडिया पर जारी वीडियो संदेश में कहा कि वह दुनिया का ध्यान कश्मीर के हालात की तरफ आकृष्ट करना चाहते हैं और उनकी कोशिश होगी कि उनके इस प्रदर्शन में दुनिया के अन्य मशहूर खिलाड़ी भी शामिल हों.

उन्होंने कहा, "जो मेरे साथ चलना (एलओसी तक) चाहता है, चले. कश्मीरियों का संघर्ष खत्म नहीं होगा. दुनिया में नए मुल्क बनते रहेंगे. यह एक सिस्टम है. जिस तरह पाकिस्तान को बनने से कोई नहीं रोक सका, इसी तरह कश्मीर को आजाद होने से कोई नहीं रोक सकेगा." रिपोर्ट में इस बात का जिक्र नहीं है कि मियांदाद एलओसी का दौरा कब करेंगे.

इससे पहले पाकिस्तानी मूल के ब्रिटिश मुक्केबाज आमिर खान भी 'कश्मीरियों से एकजुटता दिखाने के लिए' एलओसी तक जाने का ऐलान कर चुके हैं. वह इस सिलसिले में मंगलवार को लंदन से पाकिस्तान पहुंचेंगे.

आइए जानते हैं जावेद मियांदाद के अलावा किन पाकिस्तानी क्रिकेटरों ने जम्मू कश्मीर को सुलगाने की कोशिश की-:

कश्मीरियों के साथ खड़ा हूं: सरफराज
पाकिस्तान क्रिकेट के कप्तान सरफराज अहमद (Sarfaraz Ahmed) ने कहा कि ईद के मौके पर एक निजी चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि पूरी पाकिस्तानी कौम कश्मीरी भाइयों के साथ खड़ी है. उन्होंने कहा, 'अल्लाह से दुआ करता हूं कि वह मुश्किल की इस घड़ी से कश्मीरी भाइयों को जल्द निजात दिलाए. हम कश्मीरियों के दुख में उनके साथ बराबर के शरीक हैं. पूरी पाकिस्तानी कौम कश्मीरी भाइयों के साथ खड़ी है.'

शाहिद अफरीदी ने उगला था जहर
पाकिस्तान (Pakistan) क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) ने ट्वीट कर कश्मीर मसले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर गंभीर आरोप लगाए हैं. साथ ही अपने प्रधानमंत्री इमरान खान की तरह झूठा राग अलापते हुए जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) में अन्याय होने की बात कही है.

शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) ने पहले ट्वीट में लिखा है, 'कश्मीर में जारी हिंसा और क्रूरता को रोकने के लिए हमें यूएन से और अधिक कदम उठाने की उम्मीद है. पीएम नरेंद्र मोदी की इस बर्बरता भरे कदम के पक्ष में ज्यादातर भारतीय नहीं हैं, इस वक्त उन्हें स्थाई शांति कायम करने के लिए आगे आना चाहिए. कश्मीर में जारी अमानवीयता को तत्काल रोकना चाहिए.'

अगले ट्वीट में शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) ने पाकिस्तान (Pakistan) पीएम इमरान खान को टैग करते हुए कहा है, 'अन्याय और अत्याचार को कभी भी बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है. हमें कश्मीर में जल्द से जल्द समाधान की उम्मीद है. कश्मीर में शांति बहाली के लिए आपकी कोशिशों की तहे दिल से तारीफ करता हूं.'

शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) इससे पहले भी जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) को लेकर विवादित टिप्पणी कर चुके हैं. छह अगस्त को अफरीदी ने कहा था, कश्मीर में इंसानियत के खिलाफ आक्रामकता और अपराध बढ़ रहे हैं. कश्मीरियों को भी हमारी तरह आजादी का अधिकार मिलना चाहिए.

यहां आपको बता दें शाहिद अफ़रीदी के रिश्ते में लगने वाला भाई आतंकवादी रह चुका है. साल 2003 में अफरीदी का यही भाई कश्मीर के अनंतनाग में मारा गया था. सीमा सुरक्षा बल यानी बीएसएफ ने 12 सितंबर 2003 को कहा था कि शाकिब नाम के एक आतंकी को अनंतनाग में मार गिराया गया है. उस वक्त बीएसएफ के इंस्पेक्टर जनरल विजय रमन ने इस बात की पुष्टि की थी कि वह पाकिस्तान (Pakistan)ी क्रिकेटर शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) का भाई है. आईजी ने कहा था कि साक़िब अनंतनाग इलाके में 2 साल से एक्टिव था और वह अफरीदी से अपने रिश्ते का फायदा लोगों को प्रभावित करने में भी उठाता था.

वहीं एक मीडिया इंटरव्यू में जब अफरीदी से पूछा गया कि क्या कश्मीर में मारा गया आतंकी उनका भाई है, उस पर अफरीदी ने कहा था कि उनका पठान परिवार काफी लंबा चौड़ा है और ये कौन सा कजिन है उन्हें नहीं पता.

भारत के भरोसे खर्च चलाने वाले अख्तर भी करने लगा 'कश्मीर-कश्मीर'
भारतीय चैनलों के लिए कमेंट्री करके अपना खर्च चलाने वाले पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर (Shoaib Akhtar) भी जम्मू-कश्मीर को अशांत करने वाला बयान दे रहे हैं. शोएब अख्तर ने ईद के दिन ईद की शुभकामनाएं देते हुए ट्वीट करते हुए लिखा, 'हम आपके साथ खड़े हैं. ईद मुबारक.' 

शोएब ने अपने इस ट्वीट के साथ एक चोटिल नन्हें बच्चे की तस्वीर भी पोस्ट की है. तस्वीर में दिख रहे बच्चे की आंख पर पट्टी लगी हुई है. इस तस्वीर पर लिखा है, 'आपने त्याग को परिभाषित किया है. हम आपकी आजादी की दुआ करते हैं और इसके लिए जीना क्या शानदार संकल्प है.