close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जम्मू-कश्मीर पर भारत के एक्शन से बौखलाया पाकिस्तान, उठाए ये 7 कदम

जम्मू कश्मीर में धारा 370 और 35ए निष्क्रिय किए जाने के बाद से पाकिस्तान की बौखलाहट शांत होने का नाम नहीं ले रहा है.

जम्मू-कश्मीर पर भारत के एक्शन से बौखलाया पाकिस्तान, उठाए ये 7 कदम
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान जम्मू कश्मीर को लेकर ताबड़तोड़ बैठकें कर रहे हैं.

इस्लामाबाद: जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) में धारा 370 और 35ए निष्क्रिय किए जाने के बाद से पाकिस्तान (Pakistan) की बौखलाहट शांत होने का नाम नहीं ले रहा है. ताबड़तोड़ मीटिंग के बाद पाकिस्तान (Pakistan) ने जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के मसले पर नया शिगुफा छोड़ा है. पाकिस्तान (Pakistan) ने फैसला लिया है कि वह जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के मसले को लेकर संयुक्त राष्ट्र जाएगा. साथ ही पाकिस्तान (Pakistan) ने भारत के साथ द्विपक्षीय कारोबार को खत्म करने का फैसला लिया है. इतना ही नहीं बौखलाहट में पाकिस्तान (Pakistan) ने 15 अगस्त यानी भारत के स्वतंत्रता दिवस को काला दिवस के रूप में मनाने का फैसला लिया है. पाकिस्तान (Pakistan) ने कहा है कि वह भारत के साथ रिश्ते की समीक्षा करेगा. बुधवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने नेशनल सिक्योरिटी कमिटी (NSC) की बैठक बुलाई थी, जिसमें ये फैसले हुए.

लाइव टीवी देखें-:

पाकिस्तान ने बौखलाहट में उठाए ये 7 कदम
1. पाकिस्तान ने भारत के साथ कूटनीतिक संबंधों के दर्जे को घटा दिया है.
2. भारत के साथ द्विपक्षीय समझौते की समीक्षा करने का फैसला लिया है.
3. जम्मू कश्मीर के मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र और उसके सिक्योरिटी काउंसिल में उठाएगा पाकिस्तान.
4. पाकिस्तान ने इस बार के स्वतंत्रता दिवस 14 अगस्त को कश्मीर के लोगों के नाम समर्पित किया है. 
5. भारत के स्वतंत्रता दिवस (15 अगसत) को काला दिवस के रूप में मनाएगा.
6. पाकिस्तान ने अपने सभी कूटनीतिक माध्यमों को निर्देश दिया है कि वह भारत के क्रूर और जम्मू कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन के मसले को दुनिया भर में उठाने को कहा है.
7. प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपनी सेना को सतर्कता जारी रखने का निर्देश दिया है.

जम्मू कश्मीर से धारा 370 निष्क्रिय
मालूम हो कि केंद्र सरकार ने जम्मू कश्मीर में धारा 370 और 35 ए को निष्क्रिय कर दिया है. केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने सोमवार को राज्यसभा जम्मू कश्मीर पुनर्गठन बिल पेश किया था, जो बहुमत के साथ पास हो गया है. मंगलवार को यह बिल लोकसभा में भी पास हो गया. इसके बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाने पर मुहर लगा दी है. इसके साथ ही जम्मू कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा खत्म हो गया है. अब यहां पूरी तरह से भारत का कानून मान्य होगा. इस बात से पाकिस्तान बौखलाहट में है. मंगलवार को इमरान खान ने संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए भारत पर कई आरोप लगाए थे. यहां आपको स्पष्ट कर दें कि जम्मू कश्मीर भारत का हिस्सा है. यह भारत का अंदरुनी मसला है, इसपर पाकिस्तान की आपत्ति का कोई मतलब नहीं है.