close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पाकिस्‍तान के दो प्रमुख विपक्षी दल इमरान के खिलाफ 'आजादी मार्च' में नहीं लेंगे हिस्‍सा

पार्टियों ने कहा कि उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं को धरने में शामिल होने के बारे में कोई विशेष निर्देश जारी नहीं किया है. 

पाकिस्‍तान के दो प्रमुख विपक्षी दल इमरान के खिलाफ 'आजादी मार्च' में नहीं लेंगे हिस्‍सा
फाइल फोटो

इस्लामबाद : देश की दो प्रमुख विपक्षी पार्टियों पाकिस्तान(Pakistan) मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) और पाकिस्तान पीपल्स पार्टी (पीपीपी) ने घोषणा की है कि वे जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम (जेयूआई-एफ) के प्रमुख मौलाना फजलुर रहमान(Maulana Fazlur Rehman) द्वारा 'आजादी मार्च' के हिस्से के रूप में घोषित धरना का हिस्सा नहीं बनेंगे. डॉन न्यूज के मुताबिक, दोनों दलों के नेताओं और पदाधिकारियों ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने पहले से ही  मौलाना फजलुर रहमान को स्पष्ट शब्दों में बता दिया है कि वे केवल सार्वजनिक सभा में शामिल होंगे और किसी भी धरने का समर्थन नहीं करेंगे.

LIVE TV...

पार्टियों ने कहा कि उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं को धरने में शामिल होने के बारे में कोई विशेष निर्देश जारी नहीं किया है. पीएमएल-एन के महासचिव अहसान इकबाल ने शुक्रवार को डॉन न्यूज को बताया, "हम केवल एक दिन के लिए आए थे." इकबाल, जिन्होंने पीएमएल-एन के अध्यक्ष शाहबाज शरीफ के साथ आजादी मार्च में भाग लेने वालों को भी संबोधित किया, ने कहा कि पार्टी के सर्वोच्च नेता नवाज शरीफ(Nawaz Sharif) ने उन्हें केवल एक दिन के लिए आजादी मार्च में भाग लेने के लिए कहा था.

इसी तरह, पीपीपी के महासचिव फरहतुल्लाह खान बाबर ने कहा कि उनकी पार्टी के नेतृत्व ने स्पष्ट कर दिया है कि पार्टी 'अनिश्चितकालीन धरना' का हिस्सा नहीं होगी. पाकिस्तान-तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) पार्टी की सरकार को गिराने के लिए जेयूआई-एफ द्वारा आहूत की गई 'आजादी मार्च' का गुरुवार रात इस्लामाबाद में प्रवेश हुआ. मौलाना रहमान ने प्रधानमंत्री इमरान खान को इस्तीफा देने के लिए दो दिन का समय दिया है.