TTP को रोकने के लिए Taliban से हाथ मिलाएगा Pakistan, Imran Khan ने किया ऐलान

Pakistan To Join Hands With Taliban: तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान तुर्किस्तान इस्लामिक मूवमेंट का समर्थन करता है और इसीलिए पाकिस्तान में काम कर रहे चीनी नागिरिकों पर हमला करता है. पाकिस्तान इसी वजह से परेशान है.

TTP को रोकने के लिए Taliban से हाथ मिलाएगा Pakistan, Imran Khan ने किया ऐलान
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (फाइल फोटो) | फोटो साभार: PTI

इस्लामाबाद: पाकिस्तान (Pakistan) के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने कहा है कि उनका देश तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (TTP) और पड़ोसी देश से आने वाले आतंकवाद को रोकने के लिए अफगानिस्तान में मौजूद तालिबानी आतंकियों के साथ मिलकर काम करेगा.

आतंकी संगठन टीटीपी से डरा पाकिस्तान

इमरान खान ने कहा कि पाकिस्तान, अफगानिस्तान से आतंकवाद के खतरे विशेष रूप से टीटीपी के बारे में बेहद चिंतित है, जिसने खुफिया एजेंसियों के सपोर्ट से पाकिस्तान के खिलाफ हजारों हमले किए हैं.

ये भी पढ़ें- दुनिया की सबसे बड़ी पंचायत में 'वर्ल्ड लीडर पीएम मोदी', UN में आज करेंगे संबोधन

इमरान खान को सता रही ये चिंता

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि आतंकवादी अफगानिस्तान में संघर्ष का फायदा उठा सकते हैं. तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान को रोकना बहुत जरूरी है.

टीटीपी ने चीनी नागरिकों पर किए हमले

इमरान खान ने कहा कि टीटीपी पाकिस्तान में काम कर रहे चीनी नागरिकों पर हुए ज्यादातर हमलों के लिए भी जिम्मेदार है, जो उसने पूर्वी तुर्किस्तान इस्लामिक मूवमेंट (ETIM) के समर्थन से किए. उन्होंने उन आतंकवादी संगठनों को बेअसर करने के लिए अफगानिस्तान में अधिकारियों के साथ काम करने की जरूरत पर जोर दिया.

ये भी पढ़ें- यहां यूरिन में उबालकर खाए जाते हैं अंडे, खाने वालों ने गिनाए गजब के ये फायदे

उन्होंने कहा कि तालिबान ने चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (CPEC) में शामिल होने और बीजिंग के साथ गहरे संबंध स्थापित करने की संभावनाओं का स्वागत किया है. इमरान खान ने इस बात पर भी जोर दिया कि अमेरिका भी अफगानिस्तान की बहाली और पुनर्निर्माण में योगदान देकर महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है.

सीपीईसी के बारे में इमरान खान ने कहा कि चीन पहले ही प्रोजेक्ट के लिए करीब 25 अरब डॉलर का निवेश कर चुका है जबकि 20 अरब डॉलर की अन्य परियोजनाएं लागू की जा रही हैं. 25 अरब डॉलर के और प्रोजेक्ट पाइपलाइन में हैं.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.