close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

खिसियाए पाकिस्‍तान ने समझौता एक्‍सप्रेस हमेशा के लिए बंद की, रेल मंत्री बोले-जब तक मैं हूं नहीं चलेगी

पाकिस्तान ने अपने ट्रेन ड्राइवर और गार्ड को समझौता एक्सप्रेस के साथ भेजने से मना कर दिया है. इसके बाद पाकिस्‍तानी मंत्री ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी.

खिसियाए पाकिस्‍तान ने समझौता एक्‍सप्रेस हमेशा के लिए बंद की, रेल मंत्री बोले-जब तक मैं हूं नहीं चलेगी

नई दिल्‍ली/इस्‍लामाबाद:  कश्‍मीर में अनुच्‍छेद 370 और 35A पर भारत के फैसले से खिसियाए पाकिस्‍तान ने समझौता एक्‍सप्रेस को बंद करने की घोषणा की है. पाकिस्‍तान के रेल मंत्री शेख राशिद अहमद खान ने कहा, समझौता एक्‍सप्रेस को हमेशा के लिए बंद किया जाता है. जिन्‍होंने इसके लिए पहले से टिकट खरीद लिए हैं, बिना कोई चार्ज काटे रिफंड लौटा दिया जाएगा.

पाकिस्‍तान के रेल मंत्री ने ट्वीट कर कहा, जब तक मैं पाकिस्‍तान का रेल मंत्री हूं, ये समझौता एक्‍सप्रेस नहीं चलेगी. इससे पहले पाकिस्तान ने अपने ट्रेन ड्राइवर और गार्ड को समझौता एक्सप्रेस के साथ भेजने से मना कर दिया था. इस संबंध में उसने अटारी रेलवे स्‍टेशन सूचना भेजी की वह फिलहाल इस सेवा को रोक रहा है, लिहाजा भारतीय रेल अपने ड्राइवर और क्रू मेंबर को भेजकर समझौता एक्सप्रेस को पाकिस्‍तान से ले जाएं. इसके बाद भारत ने अपने ड्राइवर और क्रू मेंबर को इंजन के साथ पाकिस्‍तान भेजा. 

भारत की ओर से भेजा गया इंजन ट्रेन को लेकर वापस आया. इसके बाद ये ट्रेन पाकिस्‍तान से बाघा 110 यात्र‍ियों के साथ पहुंची. अटारी अंतरराष्ट्रीय रेलवे स्टेशन के सुपरिंटेंडेंट अरविंद कुमार गुप्ता ने बताया कि आज पाकिस्तान से समझौता एक्सप्रेस को भारत आना था, लेकिन इस दौरान पाकिस्तान से मैसेज भेजा गया कि भारतीय रेल अपने ड्राइवर और क्रू मेंबर को भेजकर समझौता एक्सप्रेस को ले जाए.

दिल्‍ली से लाहौर के बीच समझौता एक्‍सप्रेस दो सप्‍ताह में एक बार चलती है. इससे भारत और पाकिस्‍तान के यात्री आसानी से एक दूसरे के मुल्‍क की यात्रा कर पाते हैं. 2019 में भी पुलवामा हमले के बाद बालाकोट एयर स्‍ट्राइक के बाद समझौता एक्‍सप्रेस को रोक दिया गया था. इस रेल को 1976 में शिमला समझौते के तहत चलाया गया था.