चीन के बाजार ने मासूमों को भी नहीं बख्शा, 'Sexual Material' का हो रहा काला कारोबार!

हांगकांग: चीन में ई-कॉमर्स (E-commerce) प्लेटफॉर्म पर बच्चों से जुड़ी यौन सामग्री (Sexual Material) प्रसारित किए जाने के मामले सामने आ रहे हैं. सरकार को इन पर रोक लगाने के लिए कड़े कदम उठाने पड़ रहे हैं. हाल में इंटरनेट रेगुलेटर ने कहा कि उसने ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर बच्चों से जुड़ी यौन सामग्री प्रसारित किए जाने के आरोप में कुछ कंपनियों पर जुर्माना लगाया है.

Jul 21, 2021, 23:32 PM IST
1/5

इन कंपनियों पर लगा जुर्माना

चीन के इंटरनेट रेगुलेटर ने कहा कि अलीबाबा के ई्-कॉमर्स प्लेटफॉर्म ताओबाओ, टेनसेंट की क्यूक्यू मैसेजिंग सर्विस, लाइव स्ट्रीमिंग साइट कुआईशोउ, माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म साइना वीबो और सोशल मीडिया और ई-कॉमर्स सेवा शीहोंगशु पर sexual signals करने वाले स्टीकर और बच्चों के शॉर्ट वीडियो का सर्कुलेट किया जा रहा था. इसके बाद इन कंपनियों पर जुर्माना लगाया गया है.

2/5

ऐसे एकाउंट बंद करने का आदेश

चीन सरकार ने कंपनियों को इस मुद्दे का समाधान निकालने और ऐसे एकाउंट बंद करने का आदेश दिया है जो लोगों को आकर्षित करने के लिए इस तरह की सामग्री का उपयोग करते हैं.

3/5

चीनी IT कंपनियां संदेह के घेरे में

बच्चों से जुड़े Inappropriate Content पर यह कार्रवाई सरकार द्वारा देश में मौजूद IT प्लेटफॉर्म की सुरक्षा की समीक्षा किए जाने के बाद की गई है. रेगुलेटर चीनी IT कंपनियों की anti-competitive और डाटा संबंधी रुख सहित विभिन्न पहलुओं की जांच कर रहा हैं.

4/5

नाबालिगों के कानूनी अधिकार खतरे में?

चीन साइबर प्लेटफॉर्म प्रशासन ने एक बयान में कहा, ‘नाबालिगों के कानूनी अधिकार और हित में घुसपैठ के मुद्दे पर कतई भी लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

यह भी पढ़ें: अस्‍तबल में घुसकर घोड़े के साथ की 'गंदी' हरकत, इस तरह हुआ खुलासा

5/5

नाबालिगों का स्वास्थ्य खतरे में

चीन के इंटरनेट रेगुलेटर ने कहा है कि ऑनलाइन प्लेटफॉर्म की समस्या का सफाया किया जाएगा. साथ ही उन ऑनलाइन समस्याओं का खात्मा किया जाएगा जो नाबालिगों के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को खतरे में डालती हैं.

(INPUT: भाषा)