photoDetails1hindi

Pakistan Smartphone Import Decline: पाकिस्तान में खिलौना बन गए स्मार्टफोन! कबाड़ी भी नहीं खरीदेगा? चीन ने बताई ये वजह

Mobile Crisis In Pakistan: पाकिस्तान में इस समय गहरा संकट छाया है. लोग खाने, बिजली, दाना-पानी और सारी चीजों के लिए तरस रहे हैं. ताजा हातालों की बात करें तो अफरा-तफरी मची है. विकराल आर्थिक संकट (Economic Crisis) के इस दौर में पाक (PAK) में करोड़ों लोगों के स्मार्टफोन (Smartphones) खिलौना (Toy) बनते जा रहे हैं. क्या है इसकी वजह और क्यों बुरी तरह से प्रभावित हुई है पड़ोसी देश की स्मार्टफोन इंडस्ट्री? आइए जानते हैं.

1/10

दक्षिण एशिया में पाकिस्तान सस्ते मोबाइल फोन का एक बड़ा बाजार रहा है. लेकिन पाकिस्तान के ताजा हालात इतने खस्ता हैं कि वहां के लोग सस्ते स्मार्टफोन भी नहीं खरीद पा रहे हैं. ऐसी मजबूरी में लोग पुराने स्मार्टफोन चलाने को मजबूर हैं. इसके साथ ही घर के पुराने स्मार्टफोन को सही कराकर काम चला रहे हैं.

2/10

पाकिस्तान के हर मौसम के साथी और पक्के दोस्त दोस्त चीन की न्यूज एजेंसी Xinhua की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि बीते एक साल में पाकिस्तान में स्मार्टफोन का आयात करीब 70% से कम हो गया है. यानी इसका सीधा मतलब ये है कि पाकिस्तान के लोगों के पास सस्ते स्मार्टफोन खरीदने लायक पैसे भी नहीं बचे हैं. 

3/10

आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, पाकिस्तान के मोबाइल फोन के इंपोर्ट में चालू वित्त वर्ष 2022-2023 की पहली छमाही में पिछले वित्तीय वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 66% की गिरावट आई है.

 

4/10

तकनीक के मामले में जीरो पाकिस्तान में स्मार्टफोन नहीं बनते हैं, इसिलए स्मार्टफोन के लिए पाकिस्तान पूरी तरह से चीन और बाकी देशों पर निर्भर है.

5/10

नए मोबाइल फोन की कमी के साथ ही पाकिस्तान में मोबाइल सिग्नल भी ठप हो गए हैं. मतलब जिनके पास पुराने स्मार्टफोन मौजूद है, वो भी स्मार्टफोन पर कॉलिंग, मैसेजिंग और इंटरनेट नहीं चला पा रहे हैं. 

6/10

पाकिस्तानी एक्सपर्ट्स का कहना है कि अगर पाकिस्तान के आर्थिक हालात ठीक नहीं होते हैं, तो आने वाले दिनों में पाकिस्तान में स्मार्टफोन महज खिलौना बनकर रह जाएंगे.

7/10

दरअसल पाकिस्तान के कई इलाकों में 24 से 48 घंटों तक बिजली नहीं आ रही है, जिसकी वजह से मोबाइल टॉवर नहीं चल पा रहे हैं. पाकिस्तान में स्मार्टफोन आयात इतना घट जाएगा किसी ने नहीं सोंचा था. 

8/10

पाकिस्तान ब्यूरो ऑफ स्टैटिक्स (PBS) के आंकड़ों के मुताबिक बीते साल जुलाई से दिसंबर के दौरान पाकिस्तान में रिकॉर्ड 362.86 मिलियन डॉलर के मोबाइल आयात किए थे. उसकी तुलना में स्मार्टफोन आयात में बहुत बड़ी गिरावट दर्ज की गई है.

9/10

पाकिस्तान सरकार ने मोबाइल फोन, कारों और हथियारों जैसी गैर-रूरी विलासिता की चीजों के आयात पर बैन लगाया था. पाकिस्तानी पीएम शहबाज़ शरीफ ने इस फैसले की घोषणा करते हुए ट्वीट किया था कि इन फैसलों से देश की विदेशी मुद्रा की बचत होगी. पाकिस्तान विदेशी कर्ज के दलदल में गले तक धंसा है. पाकिस्तान इस कर्ज को अदा करने की हालत में नहीं है. इसलिए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ IMF के साथ दुबई, सऊदी अरब और अन्य विदेशी बैंकों से मदद की आस लगाए हुए हैं.

10/10

पूरी दुनिया जानती है कि पाकिस्तान की माली हालात काफी खराब है. वहीं चीन से आई इस रिपोर्ट से साफ होता है कि पाकिस्तानी हुक्मरानों को इस हालत का अंदाजा पहले से था. इसलिए सरकार ने पिछले साल जुलाई के महीने में इमरजेंसी आर्थिक योजना  (EES) के तहत कई सामानों पर प्रतिबंध लगा दिया था. 

photo-gallery