close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पाकिस्तान में इसहाक डार के प्रत्यर्पण के लिए सहमत हुई ब्रिटेन सरकार: पाक अधिकारी

पनामा दस्तावेज मामले में 28 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो ने पूर्व वित्त मंत्री के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला दायर किया था.

पाकिस्तान में इसहाक डार के प्रत्यर्पण के लिए सहमत हुई ब्रिटेन सरकार: पाक अधिकारी
डार के खिलाफ भ्रष्टाचार के एक मामले में सुनवाई चल रही है.

नई दिल्ली: पाकिस्तान के एक वरिष्ठ अधिकारी ने दावा किया है कि ब्रिटेन सरकार पाकिस्तान के पूर्व वित्त मंत्री इसहाक डार को उनके देश प्रत्यर्पित करने के लिए सहमत हो गई है. डार के खिलाफ भ्रष्टाचार के एक मामले में सुनवाई चल रही है. उन पर आय के ज्ञात स्रोत से अधिक संपत्ति रखने का आरोप है.

पनामा दस्तावेज मामले में 28 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो ने पूर्व वित्त मंत्री के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला दायर किया था. सुनवाई के दौरान डार लगातार अनुपस्थित रहे जिसकी वजह से सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें भगोड़ा घोषित कर दिया.

जवाबदेही पर प्रधानमंत्री के विशेष सहायक शहजाद अकबर ने इस्लामाबाद में संवाददाताओं को बताया कि एक सहमति ज्ञापन के आधार पर डार को वापस देश लाया जाएगा. उन्होंने कहा 'ब्रिटेन के साथ हमने एक समझौता किया है. प्रत्यर्पण दस्तावेजों की ब्रिटेन द्वारा अभिपुष्टि किए जाने के बाद डार को वापस लाया जाएगा'.

अकबर ने कहा कि समझौते के अनुसार, डार को ब्रिटेन में एक मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया जाएगा और फिर पाकिस्तान भेजा जाएगा.

उन्होंने हालांकि इस पूरी प्रक्रिया में लगने वाले समय के बारे में नहीं बताया. डार को, भ्रष्टाचार के आरोपों में जेल में बंद पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का करीबी माना जाता है.