PAK को एक और झटका! भारत ने सबके सामने खोल दी ‘विक्टिम कार्ड’ पॉलिसी की पोल

संयुक्त राष्ट्र में भारत के फर्स्ट सेक्रेटरी विमर्श आर्यन (India's first secretary to the United Nations Vimarsh Aryan) ने कहा कि जब भी आतंकवाद पर चर्चा होती है, तो इस पर काबू पाने में नाकाम पाकिस्तान विक्टिम कार्ड खेल देता है.

PAK को एक और झटका! भारत ने सबके सामने खोल दी ‘विक्टिम कार्ड’ पॉलिसी की पोल
संयुक्त राष्ट्र में भारत के फर्स्ट सेक्रेटरी विमर्श आर्यन (फोटो: WION)

जिनेवा: आतंकवाद (Terrorism) के मुद्दे पर भारत (India) ने एक बार फिर पूरी दुनिया के सामने पाकिस्तान (Pakistan) का असली चेहरा उजागर कर दिया है. संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (United Nations Human Rights council) में भारत ने पाकिस्तान को बेनकाब करते हुए कहा कि वह अंतरराष्ट्रीय समुदाय का ध्यान भटकाने के लिए ‘विक्टिम कार्ड’ (Victim Card) खेलता है.

संयुक्त राष्ट्र में भारत के फर्स्ट सेक्रेटरी विमर्श आर्यन (India's first secretary to the United Nations Vimarsh Aryan) ने कहा कि जब भी आतंकवाद पर चर्चा होती है, तो इस पर काबू पाने में नाकाम पाकिस्तान विक्टिम कार्ड खेल देता है, ताकि अंतरराष्ट्रीय समुदाय का ध्यान इस वास्तविकता से भटका सके कि वह संयुक्त राष्ट्र द्वारा प्रतिबंधित आतंकियों और आतंकवादी संगठनों का समर्थन कर रहा है और उन्हें शरण दे रहा है. 

अल्पसंख्यकों के मुद्दे पर भी लताड़
विमर्श आर्यन ने आतंकवाद के साथ ही अल्पसंख्यकों के अधिकारों पर भी पाकिस्तान को खरी-खरी सुनाई. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान भारत में अल्पसंख्यकों की स्थिति की दुहाई देता है, लेकिन ये भूल जाता है कि अपने देश के नागरिकों के अधिकारों की रक्षा भी उसका कर्तव्य है. हाल ही में लाहौर के ईसाई व्यक्ति आसिफ परवेज का उदाहरण देते हुए आर्यन ने कहा कि पाकिस्तान में खुलेआम अल्पसंख्यकों पर जुल्म किये जा रहे हैं. मालूम हो कि परवेज को ईश निंदा के तहत मौत की सजा सुनाई गई थी.

महिलाएं नहीं हैं महफूज
पाकिस्तान के सिंध में हिंदू महिला के अपहरण और जबरन धर्म परिवर्तन की घटना का उल्लेख करते हुए भारतीय राजनयिक ने कहा कि पाकिस्तान में बर्बरता अपने चरम पर है. वह भारत जैसे समावेशी लोकतंत्र में महिलाओं के अधिकारों की बात करता है, लेकिन अपने देश की महिलाओं की रक्षा करने में वह पूरी तरह से असफल है. इस मामले में वह कुछ भी कहने का साहस नहीं जुटा पाता. 

पत्रकारों की रक्षा करने में विफल
संयुक्त राष्ट्र में भारत के फर्स्ट सेक्रेटरी आर्यन ने बच्चों और पत्रकारों के खिलाफ बढ़ती हिंसा के मुद्दे पर भी पाकिस्तान को घेरा. उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी सरकार अपने पत्रकारों की रक्षा करने में पूरी तरह विफल है. बिलाल फारुकी जैसे इमानदार पत्रकारों को सेना द्वारा प्रताड़ित किया जाता है और सरकार खामोश रहती है. उन्होंने आगे कहा कि मानवाधिकार को लेकर भारत पर उंगली उठाने से पहले पाकिस्तान को अपने गिरेबां में झांक लेना चाहिए.

VIDEO

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.