India vs South Africa: 10 कारण जो 5वें वनडे को बनाते हैं बेहद खास

26 सालों के इतिहास में टीम इंडिया पहली बार दक्षिण अफ्रीका में वनडे सीरीज जीतने के दरवाजे पर खड़ी हैं.

Feb 13, 2018, 13:37 PM IST

26 सालों के इतिहास में टीम इंडिया पहली बार दक्षिण अफ्रीका में वनडे सीरीज जीतने के दरवाजे पर खड़ी हैं.

1/11

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

26 सालों के इतिहास में टीम इंडिया पहली बार दक्षिण अफ्रीका में वनडे सीरीज जीतने के दरवाजे पर खड़ी हैं. पहले तीन मैच भारत जीत चुका है और चौथा मैच अफ्रीका ने जीत कर सीरीज में वापसी के संकेत दे दिए हैं. यहां हम उन कारणों की चर्चा कर रहे हैं, जिनकी वजह से पांचवां मैच देखा जाना चाहिए. (PIC : BCCI)

 

2/11

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

सेंट जार्ज पार्क, पोर्ट एलिजाबेथ में दक्षिण अफ्रीका का जीत प्रतिशत 62.50 है और भारत यहां कोई मैच नहीं जीता है. पोर्ट एलिजाबेथ का यह मैदान पूर्व के चार भारतीय कप्तानों के लिए भाग्यशाली नहीं रहा है. मोहम्मद अजहरुद्दीन, सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग और महेंद्र सिंह धोनी सभी को इस मैदान पर पराजय का सामना करना पड़ा है. इस मैच पर भारत ने अब तक चार मैच खेले हैं और चारों में ही उसे हार का सामना करना पड़ा. 2001 में केन्या के खिलाफ खेले गए इकलौते मैच में भी टीम इंडिया जीत नहीं पाई थी. 

3/11

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

महेंद्र सिंह धोनी को वनडे में 300 कैच पूरे करने के लिए सिर्फ 5 कैचों की जरूरत है. इस फॉर्मेट में धोनी अभी सबसे ज्यादा कैच लेने वाले खिलाड़ी हैं.

4/11

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

विराट कोहली अगर इस मैच में दो और कैच लपक लेते हैं तो दक्षिण अफ्रीका और भारत के बीच किसी भी वनडे सीरीज में विकेटकीपर के अलावा सबसे ज्यादा कैच लपकने वाले खिलाड़ी बन जाएंगे. कोहली के नाम इस समय 16 कैच हैं. सबसे ज्यादा कैच लेने  का रिकॉर्ड 19 कैच के साथ ग्रीम स्मिथ के नाम है. दूसरे नंबर पर 17 कैच के साथ राहुल द्रविड़ हैं.

 

5/11

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

वनडे क्रिकेट में 10 हजार रन पूरे करे के लिए धोनी को केवल 46 रनों की जरूरत है. इस लैंडमार्क तक पहुंचने वाले धोनी 12वें खिलाड़ी बन जाएंगे. वह सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और द्रविड़ के बाद चौथे भारतीय होंगे.   

6/11

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

भुवनेश्वर कुमार को अपने 1000 रन पूर करने के लिए 88 रनों की जरुरत है. 

7/11

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव दोनों अब तक सीरीज में 12-12 विकेट ले चुके हैं. दक्षिण अफ्रीका में अब अगर यह और विकेट लेते हैं तो किसी भी स्पिनर द्वारा वनडे सीरीज में लिए गए ये सबसे ज्यादा विकेट होंगे.इमरान ताहिर अगर 4 विकेट ले लेते हैं तो वनडे में वह 50 विकेट लेने वाले अफ्रीकी पहले स्पिनर बन जाएंगे. 

 

8/11

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

इमरान ताहिर अगर 4 विकेट ले लेते हैं तो वनडे में वह 50 विकेट लेने वाले अफ्रीकी पहले स्पिनर बन जाएंगे. 

 

9/11

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

पोर्ट एलिजाबेथ में डेविड मिलर का औसत 191.00 का है. किसी भी स्थान पर चार या उससे अधिक मैचों के बाद यह सबसे अधिक है. 

10/11

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

यदि हाशिम अमला इस मैदान पर शतक लगाते हैं तो वह अंतरराष्ट्रीय शतकों के मामले में सचिन तेंदुलकर (100), रिकी पोंटिंग (71), कुमार संगाकारा (63) और जैक कैलिस (62) से ही पीछे रह जाएंगे. उनका नाम विराट कोहली (55) के साथ आ जाएगा. 

 

11/11

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

INDvsSA, 5th ODI, Port Elizabeth

यहां पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान बनाम दक्षिण अफ्रीका 2002 में 6 विकेट पर 335 अधिकतम स्कोर रहा है. 2002 में ही ऑस्ट्रेलिया ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अधिकतम 335 रनों का सफलतापूर्वक पीछा किया था. पाकिस्तान के सलीम इलाही ने 2002 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 135 रनों की पारी खेली था, जो सबसे अधिक निजी स्कोर है.