Asian Games 2018 : तीसरे दिन चमके निशानेबाज, भारत के 10 पदक पूरे

भारत अब तक पदक तालिका में तीन स्वर्ण, तीन रजत और चार कांस्य सहित दस पदक लेकर सातवें स्थान पर है.  

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Aug 22, 2018, 08:46 AM IST

एक स्कूली बच्चा अपनी परिपक्वता का परिचय देकर स्वर्ण पदक हासिल करता है, एक अनुभवी खिलाड़ी रजत पदक अपने नाम करता है और शौकिया तौर पर खेलने वाला एक वकील कांस्य पदक जीतने में सफल रहता है. यह कहानी है 18वें एशियाई खेलों में तीसरे दिन की, जिसमें भारत की तरफ से निशानेबाजों ने दबदबा बनाए रखा. किसान के बेटे 16 वर्षीय सौरभ चौधरी एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाले सबसे युवा निशानेबाज बन गए. 

1/10

निशानेबाजों के नाम रहा तीसरा दिन

Asian Games, Day 3

18वें एशियाई खेलों का तीसरा दिन (21 अगस्त) भारत के लिए निशानेबाजी में बेहद शानदार रहा. भारत ने इस दिन एक स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य पदक के साथ कुल तीन पदक अपने नाम किए. मेरठ के रहने वाले महज 16 साल के सौरभ चौधरी ने मंगलवार को अपने पहले ही एशियाई खेलों में सोने पर निशाना लगा भारत को दिन की स्वर्णिम शुरुआत दी. सौरभ ने 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता. इसी स्पर्धा में अभिषेक वर्मा ने कांस्य पदक पर कब्जा जमाया. भारत के अनुभवी निशानेबाज और पिछले तीन एशियाई खेलों में पदक अपने नाम कर चुके संजीव राजपूत ने पुरुषों की 50 मीटर राइफल तीन पोजीशन स्पर्धा में रजत पदक अपनी झोली में डाला.

 

2/10

सौरभ चौधरी ने दिलाया गोल्ड

Asian Games, Day 3

भारत को हालांकि मिश्रित टीम स्पर्धा के फाइनल पदक नहीं मिल सका. श्रेयसी सिंह और लक्ष्य श्योराण फाइनल में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके. सौरभ ने एशियाई खेलों में इस स्पर्धा का रिकॉर्ड तोड़ते हुए कुल 240.7 अंक हासिल किए और सोना जीता. उनके साथ अभिषेक ने फाइनल में शीर्ष-3 में जगह बनाई और अंत में कुल 219.3 अंकों के साथ तीसरा स्थान हासिल कर कांस्य पदक जीता.

 

3/10

अभिषेक वर्मा ने दिलाया ब्रॉन्ज

Asian Games, Day 3

फाइनल में पहले पांच निशानों में अच्छा प्रदर्शन करते हुए सौरभ दूसरे और अभिषेक चौथे स्थान पर थे. इसके बाद दोनों ने अपनी लय बरकरार रखते हुए शीर्ष-3 खिलाड़ियों में जगह बनाई. यहां एक गलत निशाने के कारण अभिषेक स्वर्ण पदक से चूक गए और उन्हें कांस्य से संतोष करना पड़ा. साल 2015 में निशानेबाजी में कदम रखने वाले सौरभ ने अपने दोनों निशाने जापान के तोमोयुकी मात्सुदा से बेहतर लगाते हुए सोना जीता. तोमोयुकी को रजत पदक हासिल हुआ. 

 

4/10

संजीव राजपूत ने रजत पर कब्जा जमाया

Asian Games, Day 3

पुरुषों की 50 मीटर राइफल-3 पोजिशंस स्पर्धा में संजीव राजपूत ने 452.7 अंकों के साथ दूसरा स्थान हासिल कर रजत पर कब्जा जमाया. चीन के हुई जिचेंग ने 453.3 का स्कोर कर स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया. वहीं जापान के ताकायुकी माटसुमोटो को कांस्य पदक मिला. जापानी खिलाड़ी ने 441.4 का स्कोर किया. 37 साल के संजीव ने नीलिंग और प्रोन स्पर्धा में शानदार प्रदर्शन किया. स्टैंडिंग राउंड में हालांकि वह संघर्ष करते हुए दिखे और यही कारण रहा कि वह स्वर्ण पदक नहीं जीत पाए. 

 

5/10

श्रेयसी और लक्ष्य पदक नहीं ला सके

Asian Games, Day 3

संजीव राजपूत ने नीलिंग की तीसरी सीरीज में 7.8 का स्कोर किया और कुल 151.2 के स्कोर के साथ पहले स्थान पर रहे. प्रोन में राजपूत ने लगातार 10 अंक के निशाने लगाए और शुरू से ही आगे रहे. 30 शॉट में उनका कुल स्कोर 307.1 रहा. स्टैंडिंग पोजीशन में राजपूत ने पहली सीरीज में 355.6 का स्कोर किया लेकिन जिचेंग ने उन्हें पछाड़ दिया. ट्रैप मिश्रित टीम स्पर्धा के फाइनल श्रेयसी और लक्ष्य पदक नहीं ला सके. भारतीय ट्रैप टीम ने क्वालिफिकेशन में 142 अंक हासिल कर पांचवें स्थान पर रहते हुए फाइनल के लिए क्वालीफाई किया था. 

 

6/10

दिव्या काकरान ने कांस्य पदक जीता

Asian Games, Day 3

भारत के कुश्ती प्रेमियों के लिए तीसरा दिन मिला-जुला ही रहा. पहलवानों के लगातार मैच हारने के सिलिसिले के बीच महिला खिलाड़ी दिव्या काकरान ने कांस्य पदक जीत भारत को कुछ हद तक झूमने का मौका दिया. दिव्या ने 68 किलोग्राम भारवर्ग फ्री स्टाइल स्पर्धा में कांस्य पदक पर कब्जा जमाया. उनके अलावा 76 किलोग्राम भारवर्ग फ्री स्टाइल स्पर्धा में भारत की एक और महिला पहवान किरण बिश्नोई निराशाजनक प्रदर्शन कर क्वार्टर फाइनल में हार कर बाहर हो गईं.

7/10

दिव्या ने चेन वेनलिंग को 10-0 से दी मात

Asian Games, Day 3

दिव्या ने कांस्य पदक के मैच में चीनी ताइपे की चेन वेनलिंग को 10-0 से तकनीकी दक्षता के आधार पर मात देते हुए अपने पहले ही एशियाई खेलों में पदक जीता. दिव्या को मंगोलिया की पहलवान तुमेनटसेटसेग शारखु ने क्वार्टर फाइनल में 11-1 से मात दी थी. क्वार्टर फाइनल में हार के बाद दिव्या का स्वर्ण जीतने का सपना टूट गया था लेकिन उन्हें कांस्य पदक का मैच खेलने का मौका मिला जहां उन्होंने बाजी मारी.

8/10

पदक से चुके मनीष

Asian Games, Day 3

वहीं, पुरुषों में तीसरे दिन ग्रीकोरोमन के मुकाबले थे जहां 67 किलोग्राम भारवर्ग में मनीष कांस्य पदक जीत सकते थे, लेकिन क्वार्टर फाइनल में लगी चोट के कारण वह रेपचेज राउंड में नहीं खेल पाए और इस तरह उनके पास से पदक जीतने का मौका चला गया. 60 किलोग्राम भारवर्ग में ज्ञानेंद्र के जिम्मे भारत का दारोमदार था लेकिन उन्होंने ने भी निराश किया.

9/10

सेपकटकरा में भारत ने जीता पहला मेडल

Asian Games, Day 3

भारतीय टीम ने मंगलवार को एशियन गेम्स में सेपकटकरा में अपना पहला मेडल जीता. भारतीय टीम को रेगु सेमीफाइनल में हार के बाद यह पदक मिला. थाईलैंड ने भारत को 2-0 हराकर फाइनल में प्रवेश कर लिया. दूसरे सेमीफाइनल में मलेशिया ने इंडोनेशिया को 1-0 से हराया. अब गोल्ड मेडल के लिए थाईलैंड और मलेशिया का मुकाबला होगा.

10/10

जिम्नास्ट दीपा करमाकर चूकीं

रियो ओलम्पिक में चौथा स्थान हासिल करने वाली भारतीय महिला जिम्नास्ट दीपा करमाकर जिम्नास्टिक की वॉल्ट स्पर्धा के फाइनल के लिए क्वालिफाई करने से चूक गईं. चोट के कारण राष्ट्रमंडल खेलों से बाहर रहने वाली दीपा क्वालीफिकेशन राउंड में 13.225 के स्कोर के साथ आठवें स्थान पर रहीं. दीपा के अलावा दो अन्य भारतीय खिलाड़ी प्रणति नायक (13.425) और अरुणा बी रेड्डी (13.350) क्रमश: छठे और सातवें स्थान पर रहीं. हालांकि दीपा 12.750 के स्कोर के साथ बीम फाइनल में जगह बनाने में सफल रहीं. वह सातवें स्थान पर रहीं. स्पर्धा का फाइनल 24 अगस्त को होगा. वहीं, टीम स्पर्धा में भारत ने क्वालीफिकेशन में सातवें स्थान के साथ फाइनल का टिकट कटाया. भारत ने 144.300 का स्कोर किया. टीम स्पर्धा का फाइनल गुरुवार को होगा.