जैसे ही शुरू होता है आलोचनाओं का दौर, पोस्टर ब्वॉय बन छा जाते हैं हार्दिक पांड्या

 जैसे ही हार्दिक की आलोचनाओं का दौर शुरू होता है तो वह लौटकर वापस आते हैं और छा जाते हैं. 

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Aug 20, 2018, 16:52 PM IST

कपिल देव के क्रिकेट से संन्यास के बाद टीम इंडिया में हमेशा से ऑलराउंडर की खमी खलती रही है. यूं तो कपिल देव के बाद भारतीय टीम में कई खिलाड़ी ऑल राउंडर के तौर पर शामिल तो हुए लेकिन सिर्फ बल्लेबाज या गेंदबाज बनकर ही रह गए. जब हार्दिक पांड्या टीम इंडिया में शामिल हुए तो कहा गया कि अब कपिल देव की कमी पूरी हो गई है, लेकिन हार्दिक पांड्या इन उम्मीदों पर पूरी तरह खरा नहीं उतर पाए. हालांकि, हार्दिक पांड्या ने टीम को जरुरत पड़ने पर खुद को साबित भी किया है. जैसे ही हार्दिक की आलोचनाओं का दौर शुरू होता है तो वह लौटकर वापस आते हैं और छा जाते हैं. 

1/6

तीसरे टेस्ट में पांड्या का कमाल

 Hardik Pandya, India vs England

इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट में शानदार गेंदबाजी कर भारत को बढ़त दिलाने वाले हार्दिक पांड्या एक बार फिर से टीम इंडिया के पोस्टर ब्वॉय बन गए हैं. इंग्लैंड के खिलाफ हार्दिक ने दूसरे दिन 28 रन देकर मेजबान टीम की पहली पारी में पांच विकेट लिए और रिकॉर्ड बुक में अपना नाम दर्ज कर लिया. हार्दिक पांड्या नॉटिंघम में 5 विकेट लेने वाले तीसरे भारतीय हैं. जहीर खान और भुवनेश्वर भी ऐसा कर चुके हैं. पर पांड्या ने 5 विकेट लेने के लिए जहीर और भुवी के मुकाबले सबसे कम रन खर्च किए हैं.

2/6

टी-20 में किया था ऑलराउंड परफॉर्मेंस

 Hardik Pandya, India vs England

इससे पहले टी-20 सीरीज के दौरान भी आखिरी मैच में हार्दिक पांड्या ने शानदार वापसी की थी. इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टी-20 मैच में एक बार फिर से ऑलराउंडर परफॉर्मेंस देकर हार्दिक पांड्या ने टीम इंडिया में अपनी इंपोर्टेंस एक बार फिर से साबित की थी. हार्दिक पांड्या (14 गेंदों पर नाबाद 33 रन) की शानदार पारी खेली. इसके बाद 38 रन देकर सर्वाधिक चार विकेट चटकाए. पांड्या की इस शानदार पारी की बदौलत ही भारत ने तीसरा टी-20 मैच जीतकर सीरीज पर 2-1 से कब्जा जमाया. 

3/6

कपिल देव से अक्सर होती है तुलना

 Hardik Pandya, India vs England

हार्दिक पांड्या ऑलराउंडर बनने की सीढ़ियां लगातार पार कर रहे हैं. उन्हें राष्ट्रीय टीम में खेलते हुए लगभग दो साल पूरे होने वाले हैं. जब टीम को जिस तरह की जरुरत हुई पांड्या ने शानदार प्रदर्शन किया. आंकड़े भी हार्दिक पांड्या के पक्ष में उन्हें शानदार ऑलराउंडर साबित करते हैं. हालांकि, कपिल देव से तुलना पर पांड्या का कहना है कि उन्हें कपिल नहीं बनना है. उन्हें आप हार्दिक पांड्या ही बना रहने दें. पांड्या ने अभी तक अपने करियर में 40 वनडे, 10 टेस्ट मैच खेले हैं. 

4/6

चैंपियंस ट्रॉफी में पाकिस्तान के खिलाफ खेली शानदार पारी

 Hardik Pandya, India vs England

2017 में इंग्लैंड में हुई चैंपियंस ट्रॉफी में हार्दिक पांड्या की शानदार पारी को फैन्स अभी तक भूले नहीं हैं. पाकिस्तान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 338 रनों का विशाल स्कोर बनाया था. जवाब में भारत का शीर्ष क्रम चरमरा गया था, लेकिन हार्दिक पांड्या ने 43 गेंदों में शानदार 76 रनों की पारी खेली थी. वह रवींद्र जडेजा की वजह से रन आउट हो गए थे. यह उनकी अकेली पारी नहीं थी. 

5/6

दक्षिण अफ्रीका में भी मचाया था धमाल

 Hardik Pandya, India vs England

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ इसी साल पहले टेस्ट मैच में जब टीम इंडिया के बल्लेबाज एक-एक करके पवेलियन लौट रहे थे तो हार्दिक पांड्या ही थे, जिन्होंने शानदार 93 रनों की पारी खेलकर भारत को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया था.

 

6/6

पिछले साल श्रीलंका में जड़ा था शतक

 Hardik Pandya, India vs England

पिछले साल श्रीलंका दौरे पर हार्दिक पांड्या ने शानदार शतक लगाकर अपनी उपयोगिता साबित की थी. यानी जब-जब टीम को उनकी जरुरत पड़ी है, पांड्या ने उसे पूरा किया है. वन-डे या टी-20 में तो यहां तक कहा जाने लगा है कि जब टीम को जरुरत होती है पांड्या विकेट लेते हैं और रन भी बनाते हैं.