बिगड़ रहा टीम का संतुलन, 'कपिल देव' बनना है तो पांड्या को समझनी होगी जिम्मेदारी

बेशक हार्दिक पांड्या ने दक्षिण अफ्रीका में अब तक कोई बहुत बुरा प्रदर्शन नहीं किया है, लेकिन क्या उनका प्रदर्शन टीम की जरुरतों को पूरा कर रहा है?

Jan 24, 2018, 13:45 PM IST

बेशक हार्दिक पांड्या ने दक्षिण अफ्रीका में अब तक कोई बहुत बुरा प्रदर्शन नहीं किया है, लेकिन क्या उनका प्रदर्शन टीम की जरुरतों को पूरा कर रहा है?

1/6

hardik pandya, kapil dev,

hardik pandya, kapil dev,

क्रिकेट में ऑल राउंडर का विशेष स्थान होता है. क्रिकेट के मुताबिक, ऑल राउंडर को विशेषज्ञ बल्लेबाज होने के साथ-साथ अच्छा गेंदबाज भी होना चाहिए. हार्दिक पांड्या ऐसे ही ऑल राउंडर माने जाते हैं. वह क्वॉलिटी पेस बॉलर ऑल राउंडर हैं. हालांकि, उन्होंने अपना क्रिकेट करियर अभी शुरू ही किया है लेकिन उनकी तुलना महान ऑल राउंडर कपिल देव से की जाने लगी है. बेशक उन्होंने दक्षिण अफ्रीका में अब तक कोई बहुत बुरा प्रदर्शन नहीं किया है, लेकिन क्या उनका प्रदर्शन टीम की जरुरतों को पूरा कर रहा है?

 

2/6

hardik pandya

hardik pandya

हार्दिक पांड्या ने पहले टेस्ट मैच की पहली पारी में ही आक्रामक 93 रनों की पारी खेल कर अपने पहुंचने की सूचना दे दी थी. इसके साथ ही पांड्या ने केप टाउन में तीन विकेट भी लिए, लेकिन जैसे-जैसे यह दौरा आगे बढ़ा उनकी परफॉर्मेंस को मानो जंग लग गया. न्यूसलैंड में पहली पारी में पांड्या ने कई शॉट खेले और मिस किए. स्लिप में डीन एल्गर ने उनका कैच भी छोड़ा. उस समय वह क्रीज पर आए ही थे. उनका बल्लेबाजी का आक्रामक अंदाज एक बार तो दिखाई दिया लेकिन आगे नहीं चला. पांड्या को ध्यान रखना चाहिए कि ये टेस्ट क्रिकेट है. 

 

3/6

All rounder, hardik pandya

All rounder, hardik pandya

हार्दिक पांड्या रन बनाने में असफल रहे. चलिए कोई बात नहीं. यदि पांड्या विकेट नहीं लेते, तब आपको बहुत ज्यादा बुरा नहीं लगता. आप सोचते हैं कि पांड्या ऑल राउंडर हैं. लेकिन यह सही समय है जब पांड्या को अपने कंधों पर जिम्मेदारी लेनी होगी. बल्लेबाजी की या गेंदबाजी की. यदि वह नंबर 6 पर बल्लेबाजी कर रहे हैं तो उन्हें रन बनाने होंगे. यदि वह टीम में चौथे सीमर हैं तो उन्हें विकेट लेने होंगे. 

4/6

Hardik Pandya, INDvsSA

Hardik Pandya, INDvsSA

दक्षिण अफ्रीका के दौर पर भारतीय बल्लेबाज ध्वस्त होती दिखाई दे रही है. केवल विराट कोहली ही एक बार 153 रन बना पाए तब जाकर भारतीय टीम का स्कोर 307 रनों तक पहुंचा. अन्यथा टीम इंडिया 250 रनों के आसपास भी पहुंचती दिखाई नहीं दी. क्रिकेट के सभी विशेषज्ञ यह मान रहे हैं कि भारत के पास एक बल्लेबाज कम है. हार्दिक पांड्या की वजह से अजिंक्य रहाणे को टीम से बाहर बैठना पड़ रहा है. रोहित शर्मा की लगातार असफलता टीम के मकसद को पीछे ले जा रही है. यदि भारत चाहता है कि दक्षिण अफ्रीका को कड़ी टक्कर दे तो उसे टीम में छह बल्लेबाज खिलाने होंगे.

 

5/6

India vs South Africa

India vs South Africa

दूसरे टेस्ट मैच में हार्दिक पांड्या ने कम से दोबार यह दिखाया कि उनका रवैया कितना लापरवाही पूर्ण है. पहली पारी में उन्होंने बच्चों वाली गलती की. रन लेते समय उन्होंने बल्ले को क्रीज पर नहीं रखा. उनका पैर हवा में था और गेंद स्टंप्स कोहिट कर गई. इसका परिणाम यह हुआ कि वह रन आउट हो गए. दूसरी पारी में जब टीम को मैच बचाने के लिए पांड्या की सख्त जरूरत थी, तो वह एक बचकाना शॉट मारकर आउट हो गए. इस शॉट पर कपिल देव तक ने कहा कि यदि पांड्या इसी तरह की गलतियां करते रहेंगे तो उनकी मुझसे तुलना करने का कोई अर्थ नहीं होगा. 

 

6/6

India vs South Africa, Hardik Pandya

India vs South Africa, Hardik Pandya

पहले टेस्ट में तीन विकेट लेने के बाद से पांड्या कोई विकेट नहीं ले पाए. उन्होंने मैच में 25 ओवर फेंकें लेकिन उन्हें एक भी विकेट नहीं मिला. पहली पारी में पांड्या ने मोहम्मद शमी के बाद सबसे अधिक रन लुटाए. भुवनेश्वर जैसे मैच विनर को प्लेइंग 11 से बाहर बैठना पड़ा. ऐसे में पांड्या को टीम में खिलाना बेहद अजीब बात है. पांड्या की जगह टीम में भुवनेश्वर या रहाणे को खिलाया जाना चाहिए था. (तस्वीरें बीसीसीआई के टि्वटर हैंडिल से साभार)