हरियाणा: करनाल विधानसभा सीट से इतने वोटों से आगे चल रहे हैं सीएम मनोहर लाल खट्टर

हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर सुबह 9.31 मिनट तक पहले दौर की मतगणना में करनाल विधानसभा सीट से 4588 वाटों से आगे चल रहे हैं.

प्रतीक शेखर | Oct 24, 2019, 10:05 AM IST

नई दिल्ली/चंडीगढ़: 21 अक्‍टूबर को हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Election 2019) के लिए डाले गए मतों की गणना सुबह 8 बजे से शुरू हो गई. राज्‍य से मतगणना के रुझानों में राज्‍य में बीजेपी आगे चल रही तो कांग्रेस दूसरे नंबर पर चल रही है. वहीं जेजेपी और इनेलो भी पीछे चल रही हैं. बता दें, हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर सुबह 9.31 मिनट तक पहले दौर की मतगणना में करनाल विधानसभा सीट से 4588 वोटों से आगे चल रहे हैं. 

1/5

हरियाणा में 90 सीटों की रुझान आई समाने

Assembly Election 2019

बीजेपी- 45 | कांग्रेस- 37 | इनेलो- 1 | जेजेपी- 7 | अन्य- 0

2/5

करनाल सीट से सीएम आगे

Assembly Election 2019

बता दें, हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर सुबह 9.31 मिनट तक पहले दौर की मतगणना में करनाल विधानसभा सीट से 4588 वोटों से आगे चल रहे हैं. अब राज्‍य के नतीजे मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) का कद तय करेंगे. अगर राज्य में पिछली बार से ज्यादा सीटें आईं तो मुख्यमंत्री का पार्टी में कद बढ़ेगा, वहीं अगर सीटों का नुकसान हुआ तो पार्टी के अंदरखाने दोनों के नेतृत्व पर भी सवाल उठ सकते हैं.

3/5

2014 में बीजेपी ने ऐसे लड़ा था चुनाव

Assembly Election 2019

दरअसल, 2014 के विधानसभा चुनाव में पार्टी ने कोई स्थानीय चेहरा तय किए बगैर ही चुनाव लड़ा था. मई में तब मोदी सरकार सत्ता में आई थी. भाजपा के पक्ष में तेज लहर चल रही थी, उसी मोमेंटम में करीब पांच महीने बाद ही अक्टूबर में राज्य के विधानसभा चुनाव हुए और भाजपा ने लोकसभा चुनाव में जीत की लय बरकरार रखी. हरियाणा में 47 सीटें जीतकर पार्टी ने अपने दम पर सरकार बनाई थी. 

4/5

2014 में पीएम मोदी के चेहरे पर लड़ा था चुनाव

Assembly Election 2019

भाजपा ने दोनों राज्यों का विधानसभा चुनाव तब प्रधानमंत्री मोदी के चेहरे पर लड़ा था. नतीजे घोषित होने के बाद पार्टी ने हरियाणा में गैर जाट मनोहर लाल खट्टर को मुख्यमंत्री बनाकर सबको चौंका दिया था.

5/5

इस बार सीएम खट्टर के चेहरे पर लड़ा चुनाव

Assembly Election 2019

मगर इस बार पार्टी ने हरियाणा के मुख्यमंत्री खट्टर के चेहरे को ही आगे कर चुनाव लड़ा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह हर चुनावी रैली में मुख्यमंत्री को आगे रखते रहे.