close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जहां तक नजर जाए सिर्फ पानी और पानी, इस तरह बह गए हजारों आशियानें, देखिए PICS

त्रिपुरा में इन दिनों बारिश और आंधी कहर है. आंधी और बारिश से हालात ऐसे हैं कि सैंकड़ों की संख्या में घर अब तक तबाह हो चुके हैं. 

आशु दास | May 26, 2019, 10:31 AM IST

त्रिपुरा में शुक्रवार से बारिश और आंधी की वजह से बेघर हुए कम से कम 739 लोगों ने राज्य के राहत शिविरों में शरण ली. बारिश के हालातों की जानकारी देते हुए कहा कि अब तक किसी भी तरह की हताहत की खबर नहीं है. राज्य आपदा प्रबंधन अथॉरिटी के प्रमुख सरत दास ने बताया, ‘‘ उत्तरी त्रिपुरा, उनाकोटी और धलाई जिले प्रभावित हुए हैं.’’ 

1/5

358 व्यक्ति उनाकोटी जिले के हैं

358 people are from Unakoti district.

राज्य आपदा अभियान केंद्र (एसईओसी) ने एक रिपोर्ट में बताया कि राहत शिविरों में शरण लेने वाले 739 लोगों में से 358 व्यक्ति उनाकोटी जिले और 381 व्यक्ति उत्तरी त्रिपुरा जिले से हैं. 

2/5

1 हजार से ज्यादा घर हुए क्षतिग्रस्त

More than 1 thousand houses damaged

अधिकारियों ने राज्य के हालातों के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि बारिश की वजह से विभिन्न जिलों में 1,039 घर क्षतिग्रस्त हो गए हैं.

3/5

नाव से सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाए जा रहे लोग

People being transported to safer places by boat

उन्होंने बताया कि राज्य सरकार के राजस्व विभाग ने कुल 40 नावों को प्रभावित इलाकों से लोगों को बचाने में लगाया गया. दास ने कहा, ‘‘ राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) और त्रिपुरा स्टेट राइफल्स (टीएसआर) भी राहत अभियान में शामिल हुए हैं.’’ 

 

4/5

खतरे के निशाने पर पहुंची मनु नदी

Manu river reached the target of danger

त्रिपुरा के हालातों को देखकर ऐसा लग रहा है कि राज्य के हालात इतनी जल्दी सुधरने वाले नहीं है. ऐसा इसलिए है, क्योंकि उनकोटी जिले में शनिवार दोपहर में मनु नदी का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर पहुंच गया है. 

5/5

रविवार को भी बारिश की आशंका

Rain also feeds on Sunday

एक तरफ मनु नदी का जलस्तर तेजी से जलस्तर बढ़ रहा है. वहीं, दूसरी तरफ मौसम विभाग ने आशंका जताई है कि राज्य में बारिश और आंधी रविवार को भी जारी रहेगी.