close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पाकिस्तान में ईद पर फीकी होगी सेवईयों की मिठास, दोगुने हुए दूध के दाम, चीनी भी महंगी

पाकिस्‍तान में आम आदमी के लिए कुछ भी ठीक नहीं चल रहा है. पिछले कुछ दिनों में पाकिस्तानी करेंसी बहुत ही ज्यादा खस्ताहाल हो गई है, जिसकी कीमत पाकिस्तानियों को चुकानी पड़ रही है. 

आशु दास | May 20, 2019, 11:17 AM IST

पाकिस्तानी रुपया डॉलर के मुकाबले अपने सर्वकालिक निचले स्तर पर आ गया. पाकिस्तानी रुपये की कीमत 151 प्रति डॉलर पर आ गई. रुपये में गिरावट की वजह से पाकिस्तान में खाने के सामान की कीमत दिनों दिन बढ़ रही है, जिसका खामियाजा आम जनता को भुगतना पड़ रहा है. 

1/6

फूड आइटम्स की कीमत में 20फीसदी उछाल

20% jump in food items prices

खास बात ये है कि इन दिनों मुस्लिम धर्म का सबसे पवित्र महीना रमजान चल रहा है. ऐसे में फलों, दूध, सब्जियों के दाम बढ़ने से आम आदमी परेशान है. घरेलू सामान के अलावा इंपोर्टेड फूड आइटम्स की कीमतें बढ़ने लगी है. इंपोर्टेड फूड आइटम्स की कीमतें 15 से 20 फीसदी तक बढ़ गई है. इसलिए कई इम्पोर्टर्स ने पाकिस्तान में इंपोर्टेड फूड आइटम्स की बिक्री रोक दी है. 

 

2/6

दो गुणा हुए दूध के दाम

Price of two times the milk

रमजान के बाद मनाई जाने वाली ईद भी इस बार पाकिस्तान में फीकी रहने वाली है. पाकिस्तान में पिछले एक सप्ताह में दूध के दाम दो गुणे हो गए हैं. इस वक्त पाकिस्तान में एक किलो दूध की कीमत 100 से 150 रुपये है. वहीं चीनी 80 से 90 रुपये किलो बिक रहा है. बता दें कि पाकिस्तान में चीनी का काफी उत्पादन होता है, ऐसे में वहां पर चीनी के दाम बढ़ना एक बड़ी बात कही जा रही है. 

3/6

क्या कहता है कराची होससेलर्स ग्रोसर्स एसोसिएशन

What does the Karachi Hussellers Growers Association say?

पाकिस्तान के अखबार डॉन में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, कराची होससेलर्स ग्रोसर्स एसोसिएशन (KWGA) के चीफ अनिस मजीद का कहना है कि रुपये-डॉलर में अनिश्चितता से इंपोर्ट कॉस्ट बढ़ गया है जिसका असर पाकिस्तानियों पर बहुत ही खराब पड़ेगा. 

4/6

गोडाउन में शिफ्ट किया जा रहा है सामान

Shipping goods in Godown

उन्होंने कहा, हम पोर्ट्स से गुड्स को हटाकर गोडाउन में शिफ्ट कर रहे हैं. हालांकि हम इन आइटम्स को होलसेल मार्केट में नहीं बेंचेगे क्योंकि इसका वाजिब दाम नहीं मिल पाएगा.

5/6

छूट वापस लेने की सोच रही हैं कंपनियां

Companies are thinking of withdrawing the discount

इतना ही पाकिस्तान में कई सारी कंपनियां जो ऑफर देती है, उन्हें भी वापस देने की बात कह रहे हैं. डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान वनस्पति मैन्यूफैक्चरर्स एसोसिएशन (PVMA) के चेयरमैन तारिक उल्लाह सुफी ने कहा, वेलेटाइल एक्सचेंज रेट का पाकिस्तान पर निगेटिव इम्पैक्ट पड़ेगा. इसलिए हम अगले हफ्ते से घी और कुकिंग ऑयल पर 5 रुपये प्रति किलो/लीटर छूट वापस लेने की सोच रहे हैं.

6/6

महंगाई आसान पर...

Easy on inflation

पाकिस्तान में अब फल और सब्जी खाना आम लोग के बस में नहीं. वहां 360 रुपये दर्जन संतरे, 150 रुपये दर्जन केले, नींबू और सेब 400 रुपये किलोग्राम बिक रहे हैं. वहीं मटन का भाव 1100 रुपये किलो तो चिकन 320 रुपये किलो पहुंच गया है, जबकि एक लीटर दूध के लिए 120 रुपये चुकाने पड़ रहे हैं.