X

रोजाना एक किलो ड्राई फ्रूट और 10 किलो चारा खाता है यह बकरा, कीमत जान हैरान रह जाएंगे

नई दिल्ली: सोमवार के हर अखबार के पहले पन्ने पर केरल में बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए एनडीआरएफ द्वारा चलाए जा रहे राहत और बचाव कार्य को प्रमुखता से कवर किया गया है. यहां हम आपको देश के अखबारों में छपी अन्य खबरों से रू-ब-रू करवा रहे हैं. 

 

बाइक टच हुई तो चबा डाला कान

1/4
बाइक टच हुई तो चबा डाला कान

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली के नेताजी सुभाष पैलेस इलाके में शनिवार शाम बाइक छू जाने पर एक शख्स ने युवक का कान चबा डाला. हिंदुस्तान की खबर के मुताबिक, पीड़ित युवक की पहचान आयुश उर्फ अजय के रूप में हुई है. पुलिस मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश कर रही है. पुलिस के अनुसार, आयुश परिवार के साथ कन्हैया नगर इलाके में रहता है. वह बीकॉम की पढ़ाई कर रहा है. वह शनिवार शाम को अपने दोस्त को अपनी बाइक से घर छोड़ने जा रहा था तभी शकूरपुर सब्जी मंडी के पास उसकी बाइक आगे चल रही स्कूटी से टच हो गई. चालक को सॉरी बोलकर आयुश चला गया. करीब 7:30 बजे जब वह घर लौट रहा था सब्जी मंडी आई ब्लॉक शकूरपुर के पास स्कूटी चालक ने अपने एक अन्य साथी की मदद से उसे जबरन रोक लिया और मारपीट शुरू कर दी. इस बीच एक आरोपी ने उसका दायां कान दांतों से काटकर अलग कर दिया. इसके बाद आरोपी मौके से फरार हो गए.

 

जमानत मिली, फिर भी तिहाड़ में बंद हैं 60 विचाराधीन कैदी

2/4
जमानत मिली, फिर भी तिहाड़ में बंद हैं 60 विचाराधीन कैदी

नई दिल्ली: तिहाड़ जेल में करीब 60 विचाराधीन कैदी ऐसे हैं जिन्हें जमानत मिलने के बावजूद वह रिहा नहीं हो पा रहे. इसकी मुख्य वजह है परिवार की आर्थिक तंगी. उनके परिवार के पास इतने रुपये नहीं हैं कि वे जमानत की राशि जमा करा सकें और दूसरा कोई मददगार नहीं मिल रहा है. दैनिक जागरण की खबर के मुताबिक, जेल प्रशासन का कहना है कि जैसे ही जमानत राशि जमा हो जाएगी, इन विचाराधीन कैदियों को रिहा कर दिया जाएगा. तिहाड़ जेल प्रशासन के अनुसार, कुछ वर्ष पूर्व यह मामला काफी गंभीर था. जेल में करीब 500 ऐसे विचाराधीन कैदी थे, जो जमानत मिलने के बावजूद कैद थे. हालांकि, अब धीरे-धीरे ऐसे मामलों में कमी आ रही है.

 

पुलिस के हत्थे चढ़ा लुटेरा दूल्हा

3/4
पुलिस के हत्थे चढ़ा लुटेरा दूल्हा

नोएडा: नोएडा पुलिस के हत्थे चढ़े लुटेरे दुल्हे तरुण के बारे में पुलिस ने नए खुलासे किए हैं. कई शहरों में लगातार जालसाजी करने के बाद वह इलाहाबाद में ट्रैवल एजेंसी शुरू करने जा रहा था. दैनिक भास्कर की खबर के मुताबिक, वह भोपाल की एक युवती को प्रेमजाल में फंसाकर इलाहाबाद ले आया और तीसरी शादी कर ली. इसके बाद उसने युवती के नाम से एक ज्वाइंट अकाउंट खुलवाकर ट्रैवल एजेंसी का कारोबार शुरू कर लिया. इसके लिए उसने 11 स्कॉर्पियो कार का ऑर्डर देकर कंपनी को 1.10 करोड़ का चेक दे दिया था. चेक बाउंस हुआ तो भागकर युवती के साथ नोएडा पहुंचा, जहां पुलिस ने दोनों को धरदबोचा. मेट्रिमोनियल वेबसाइट पर उसकी नजर अच्छी प्रोफाइल की युवतियों पर ही रहती थी. उनकी सालाना आय या पारिवारिक पृष्ठभूमि देखकर तरुण उन्हें सोशल मीडिया पर तलाशना शुरू कर देता था. जैसे-तैसे उनके मोबाइल नंबर हासिल कर चैटिंग शुरू कर देता था. कभी खुद को बीमार तो कभी दहेज न लेने की बात कहकर उन्हें झांसे में लेता था. 

 

1 किलो ड्राय फ्रूट और 10 किलो चारा खाता है ये बकरा

4/4
1 किलो ड्राय फ्रूट और 10 किलो चारा खाता है ये बकरा

नई दिल्ली: जामा मस्जिद के बकरा बाजार में अलवरी नस्ल का सुल्तान आकर्षण का केंद्र बना हुआ है. अमर उजाला की खबर के मुताबिक, करीब 200 किलो के इस बकरे की कीमत पांच लाख रुपए है. वहीं, बाजार में सुलतान पुर से आए लक्की और सनी नाम के बकरों की जोड़ी लोगों को आकर्षित कर रही है. इनकी कीमत भी पांच लाख रुएये रखी गई है. हालांकि, कारोबारियों का कहना है कि इस बार बाजार में बकरे ज्यादा हैं लेकिन खरीदार नहीं हैं. मेवात से सुल्तान को लेकर आए अब्दुल कय्यूम ने अखबार को बताया कि करीब दो साल का सुल्तान सुबह-शाम 5 किलो दूध पीता है और रोज एक किलो ड्रायफ्रूट खाता है. इसके अलावा इसे 5 किलो दाना और 10 किलो चारा दिया जाता है. कारोबारी ने कहा कि बकरे की सही कीमत नहीं मिली तो वो इसे लेकर वापस गांव लौट जाएंगे.   

 

photo-gallery